Wednesday, June 29, 2022
HomeHealth Newswhat is the best time to do yoga in evening: international day...

what is the best time to do yoga in evening: international day of yoga 2022 expert aastha grover explained what is the best time for yoga and yogasana according to it – Yoga Day: योग के समय को लेकर कहीं आप भी तो नहीं कर रहें ये भूल? फायदे की जगह हो सकता है नुकसान, एक्सपर्ट ने बताया इससे बचाव के 4 उपाय


योग शब्द संस्कृत की ‘युज’ धातु से बना है जिसका अर्थ है जुड़ना या जगाना। योग से मिलने वाले शारीरिक, भावनात्मक, मनोवैज्ञानिक और आध्यात्मिक फायदों के कारण हजारों वर्षों से योग का अभ्यास किया जाता रहा है लेकिन कई बार लोगों को इस बात की जानकारी नहीं होती कि योग का अभ्यास कब किया जाना चाहिए। कुछ लोग सुबह, तो कुछ शाम को योग करने की सलाह देते हैं।

वसंत कुंज स्थित फोर्टिस अस्पताल की कंसल्टेंट लैक्टेशन, आस्था ग्रोवर बताती हैं कि योग को किसी भी समय किया जा सकता है। बस अभ्यास में निरंतरता होनी चाहिए। आप अपने शरीर, आस-पास के माहौल, बदलते मौसम, समय की उपलब्धता और रोजाना की जीवन शैली के हिसाब से योग करने का सही समय चुन सकते हैं। योग करने का समय तय करने से पहले पूरी जानकारी के साथ सोच समझकर निर्णय लें।

​सुबह योग करने के फायदे

navbharat times

जल्दी उठने वाले लोग सुबह योग करना पसंद करते हैं। सुबह योग करने से “एंडोर्फिन” को सक्रिय करने में मदद मिलती है।इससे तनाव कम होता है और शरीर को दिन भर के लिए ऊर्जा मिलती है। सुबह के समय योगा करने से आप दिन में अपना काम बेहतर तरीके से कर पाएंगे। पर ध्यान रहे कि सुबह के समय योग इतना नहीं किया जाना चाहिए कि आप थका महसुस करने लगें।

​सुबह किए जाने वाले योग

navbharat times

सुबह के योग में हमारे प्राण को सक्रिय करने के लिए सूक्ष्म व्यायाम शामिल होना चाहिए, इसके बाद सूर्य नमस्कार, आगे की ओर झुकना, उलटना और पीछे झुकना जैसे योग किए जाएं और इसे प्राणायाम व ध्यान के साथ समाप्त करना चाहिए।

​शाम के समय योग करते हैं तो ये बात जान लें

navbharat times

आमतौर पर जो लोग देर से उठते हैं या जिनके काम करने का समय अलग होता है, वे शाम के समय योग करना पसंद करते हैं। यदि आप शाम को योग करते हैं तो यह आपके दिन भर की थकान व तनाव दूर करने में आपकी मदद कर सकती है। इससे आप तरोताजा और शांत महसूस करने लगेंगे। लेकिन ध्यान रहे कि शाम को इतना योगा न हो की आपका शरीर जरूरत से ज्यादा उत्तेजित हो जाए और रात में नींद आने में परेशानियों का सामना करना पड़े।

​शाम के समय किस तरह का योग करना चाहिए

navbharat times

शाम के योग में आराम देने वाले आसन जैसे शरीर को मोड़ना, आगे और पीछे झुकना, और उलटना शामिल होना चाहिए। इस समय पीठ को ज़्यादा मोड़ने और तेजी से सांस लेने से बचना चाहिए क्योंकि इससे आपका शरीर ज़रूरत से ज़्यादा उत्तेजित हो सकता है, जिससे नींद लेने में परेशानी आ सकती है। आखिर में शरीर को आराम देने और शाम के हिसाब इसे सक्रिय करने के लिए आरामदायक प्राणायाम और ध्यान के साथ योग को समाप्त करें।

​2 घंटे तक योग करना है लाभकारी

2-

तय हो जाने के बाद, यह पक्का करना चाहिए कि खाना खाने के कम से कम 2 घंटे बाद ही योग किया जाए। सही तरीका यही है कि अपनी जीवनशैली के हिसाब से योग का सही समय तय करें और ध्यान रखें कि इसे नियमित करने से ही फायदा मिलेगा। याद रखें कि आपके समग्र स्वास्थ्य में बदलाव लाने के लिए निरंतरता सबसे महत्वपूर्ण है। आप जितना अधिक अभ्यास करेंगे, उतना ही आप खुद को अपने मन और शरीर से जोड़ पाएंगे।

डिस्क्लेमर: यह लेख केवल सामान्य जानकारी के लिए है। यह किसी भी तरह से किसी दवा या इलाज का विकल्प नहीं हो सकता। ज्यादा जानकारी के लिए हमेशा अपने डॉक्टर से संपर्क करें।



Source link

RELATED ARTICLES

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments