Vitamin B6 के ज्यादा सेवन से अपाहिज हुआ शख्स, रोजाना इतनी मात्रा में खाएं विटामिन, जादा डोज पड़ेगी महंगी – man has lost his ability to walk after taking vitamin b6, know vitamin benefits side effects and foods


शरीर के बेहतर कामकाज के लिए पर्याप्त मात्रा में विटामिन्स की जरूरत होती है। हर चीज की तरह विटामिन्स की अधिक मात्रा से शरीर को नुकसान हो सकते हैं। जुलाई में ब्रिटेन के एक व्यक्ति को विटामिन डी की अधिक मात्रा के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उसे उल्टी, दस्त, पेट में दर्द, मुंह सूखना, कानों का बजना और पैर में ऐंठन जैसे लक्षण महसूस हो रहे थे।

अब एक ऑस्ट्रेलियाई व्यक्ति ने विटामिन बी 6 का अधिक सेवन करने के बाद अपने चलने की क्षमता खो दी है। बताया जा रहा है कि इस 86 वर्षीय शख्स के ब्लड टेस्ट से पता चला कि उसमें विटामिन बी6 की कमी थी। उसके डॉक्टर ने इसका लेवल बढ़ाने के लिए 50 मिलीग्राम विटामिन बी 6 सप्लीमेंट लेने की सलाह दी। इसके सेवन से उसे पैरों में दर्द होने लगा था।

जब उसने चलने की क्षमता खो दी तो अस्पताल में भर्ती करवाने के बाद पता चला कि उसके शरीर में विटामिन बी 6 की विषाक्तता हो गई थी। चलिए जानते हैं कि शरीर के लिए विटामिन बी 6 कितना जरूरी है, ज्यादा लेने के क्या नुकसान हैं और यह किन चीजों में पाया जाता है।

रोजाना कितने विटामिन बी 6 की जरूरत?

-6-

50 वर्ष और उससे कम उम्र के वयस्कों के लिए विटामिन बी 6 की दैनिक मात्रा 1.3 मिलीग्राम है। 50 वर्ष की आयु के बाद, विटामिन बी 6 की दैनिक मात्रा महिलाओं के लिए 1.5 मिलीग्राम और पुरुषों के लिए 1.7 मिलीग्राम है।

विटामिन की विषाक्तता के लक्षण

navbharat times

विटामिन बी 6 विषाक्तता आमतौर पर दुर्लभ है क्योंकि अतिरिक्त बी विटामिन ज्यादातर पेशाब के माध्यम से शरीर से बाहर निकल जाते हैं। हालांकि, अधिक मात्रा में विटामिन लेने से, विशेष रूप से लंबी अवधि में, विषाक्तता हो सकती है। 200 मिलीग्राम से अधिक विटामिन बी 6 की खुराक से तंत्रिका संबंधी विकार हो सकते हैं, जिसमें तंत्रिका क्षति के कारण पैरों में महसूस करने की हानि शामिल है।

विटामिन बी6 क्यों जरूरी है?

-6-

विटामिन बी 6 एक पानी में घुलनशील विटामिन है जिसकी शरीर को कई कार्यों के लिए आवश्यकता होती है। यह प्रोटीन, वसा और कार्बोहाइड्रेट चयापचय, रेड ब्लड सेल्स और न्यूरोट्रांसमीटर बनाने के लिए जरूरी है। शरीर अपने आप विटामिन बी 6 का उत्पादन नहीं कर सकता है, इसलिए हमें इसका सेवन खाद्य पदार्थों या सप्लीमेंट्स से करना चाहिए। अधिकांश लोगों को अपने आहार के माध्यम से पर्याप्त विटामिन बी 6 मिलता है और उन्हें किसी सप्लीमेंट की जरूरत नहीं होती है।

किन चीजों में पाया जाता है विटामिन बी6

-6
  • मांस
  • मुर्गी
  • मछली
  • चने
  • मूंगफली
  • सोया सेम
  • गेहूं के बीज
  • जई
  • केले
  • दूध

विटामिन बी 6 की कमी किसे हो सकती है?

-6-

जिन लोगों को किडनी की बीमारी है या कोई अन्य स्थिति है जो उनकी छोटी आंत को पोषक तत्वों को अवशोषित करने से रोक सकती है, उन्हें विटामिन बी 6 की कमी होने की संभावना है। ऑटोइम्यून डिजीज, मिर्गी की कुछ दवाएं और शराब भी किसी व्यक्ति के शरीर में विटामिन बी 6 की कमी का कारण बन सकती है।

डिस्क्लेमर: यह लेख केवल सामान्य जानकारी के लिए है। यह किसी भी तरह से किसी दवा या इलाज का विकल्प नहीं हो सकता। ज्यादा जानकारी के लिए हमेशा अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

अंग्रेजी में इस स्‍टोरी को पढ़ने के लिए यहां क्‍लिक करें



Source link

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: