Saturday, July 2, 2022
HomeNewstunnel underpass in delhi: दिल्लीवालों के लिए खुशखबरी! ITO वाला जाम खत्म...

tunnel underpass in delhi: दिल्लीवालों के लिए खुशखबरी! ITO वाला जाम खत्म करेंगे टनल वाले 6 नए अंडरपास, PM कल करेंगे प्रोजेक्ट की शुरुआत


प्रमुख संवाददाता, नई दिल्ली: आईटीओ और प्रगति मैदान के आसपास से गुजरने वाले लोगों को ट्रैफिक जाम से राहत मिलने जा रही है। इस पूरे एरिया को सिग्नल फ्री बनाने के इरादे से बनाए जा रहे प्रगति मैदान टनल प्रोजेक्ट का रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उद्घाटन करेंगे। इस प्रोजेक्ट के शुरू होने के बाद मथुरा रोड पर डब्ल्यू पॉइंट से सुंदर नगर नर्सरी तक का पूरा रास्ता तो सिग्नल फ्री होगा ही, साथ ही मंडी हाउस से यमुनापार आने जाने वालों को भी टनल के रूप में एक नया रास्ता मिलेगा। इससे भैरो रोड और आईटीओ पर ट्रैफिक का बोझ कम होगा।

भैरों मार्ग सिग्नल फ्री: इस प्रोजेक्ट के तहत मथुरा रोड पर लगे ट्रैफिक सिग्नल पर अब रुकने की जरूरत नहीं रहेगी। इन सिग्नल को हटाने के लिए आईटीओ से लेकर डीपीएस स्कूल तक सिग्नल फ्री करने के लिए 4 अंडरपास बनाए गए हैं। पहला अंडरपास डीपीएस स्कूल के पास, दूसरा सुंदर नगर के पास, तीसरा नैशनल स्पोर्ट्स क्लब और चौथा पुराना किला के पास बनाया गया है। अगर किसी को आईटीओ से भोगल की ओर जाना है, तो वह सीधे जा सकता है। अंडरपास बनने के बाद मथुरा रोड आईटीओ से लेकर डीपीएस स्कूल तक जितने भी ट्रैफिक सिग्नल हैं, उन्हें हटा दिया जाएगा। पांचवा अंडरपास भैरो मार्ग, रिंग रोड टी-जंक्शन और छठा अंडरपास रिंग रोड पर बनाया गया है। रिंग रोड पर बने अंडरपास भैरो मार्ग-रिंग रोड टी-जंक्शन से सराय काले खां या कश्मीरी गेट बस अड्डा की ओर आने-जाने के लिए इस्तेमाल किया जाएगा।
navbharat times

Bulldozer Drive: दिल्ली की इन सड़कों से हटेंगे खोमचे, पेड़ और खंबे… A, B और C k कैटिगरी की सड़कों की पूरी लिस्ट यहां देखें
आईटीओ पर घटेगा ट्रैफिक: अभी आईटीओ डब्ल्यू पॉइंट से रोजाना करीब 3.5 लाख गाड़ियां गुजरती हैं। अंडरपास और टनल से ट्रैफिक शुरु होने के बाद जिन्हें आईटीओ से मयुर विहार, नोएडा या पूर्वी दिल्ली के दूसरे किसी इलाके में जाना है, वह मेन टनल से होते भी जा सकते हैं। इससे आईटीओ डब्ल्यू पॉइंट पर गाड़ियों का भार काफी कम हो जाएगा और लोगों को यहां जाम से राहत भी मिलेगी। अभी मंडी हाउस और इंडिया गेट से यमुनापार जाने वाले भैरो रोड या आईटीओ के रास्ते का उपयोग करते हैं। अब प्रगति मैदान के नीचे से टनल बनने के बाद यमुनापार आने जाने वालों को एक और विकल्प मिल जाएगा। इस तरह से मंडी हाउस से भगवान दास रोड या पटियाला हाउस कोर्ट से ऐसे गाड़ी चलाने वाले प्रगति मैदान की टनल से होते हुए रिंग रोड पर पहुंच सकेंगे। इस तरह से लोग विकास मीनार के समीप से यमुना ब्रिज या फिर रिंग रोड पर दिल्ली मेरठ एक्सप्रेस वे से होते हुए यमुनापार आ जा सकेंगे। इसका नतीजा यह होगा कि आईटीओ और भैरो मार्ग पर गाड़ियों की भीड़ से बड़ी राहत मिल सकेगी।

टनल होगी सुरक्षित: मथुरा रोड और रिंग रोड के बीच प्रगति मैदान के नीचे बनाई गई टनल में सेफ्टी के लिए भी कई तरह के इंतजाम करने का दावा किया गया है। लगभग 1.4 किमी लंबी इस टनल में स्मार्ट फायर मैनेजमेंट, वेंटिलेशन और ऑटोमैटिक जल निकासी सिस्टम आदि का प्रावधान किया गया है।

navbharat timesनोएडा में डिग्री कॉलेज तिराहा होगा बंद, शशि चौक से पहले यू-टर्न तैयार, सड़क में हुआ बदलाव
923 करोड़ रुपये खर्च: आईटीपीओ चयेरमैन और एमडी एलसी गोयल के अनुसार मेन टनल और 6 अंडरपास निर्माण पर ही 923 करोड़ रुपये खर्च हुए हैं। पांच अंडरपास और मेन टनल का काम पूरा हो चुका है और 19 जून शाम से ट्रैफिक चलने लगेगा। लेकिन, भैरो मार्ग-रिंग रोड टीजंक्शन पर जो 540 मीटर लंबा अंडरपास बन रहा है, उसे पूरा करने में अभी वक्त लगेगा। उनका कहना है कि इस अंडरपास के पूरा होने में करीब 2-3 महीने का वक्त लग सकता है। प्रगति मैदान के अंदर जो बेसमेंट पार्किंग बनाई जा रही है, उसमें करीब 4,800 गाड़ियों के खड़ी करने का स्पेस होगा।

कहां पर हैं अंडरपास
1. काका नगर यू-टर्न अंडरपास 440 मीटर
2. सुंदर नगर यू-टर्न अंडर पास 440 मीटर
3. पुराना किला के पास अंडरपास 380 मीटर
4. नेशनल स्पोर्ट्स क्लब के पास अंडरपास 1032 मीटर
5. भैरो मार्ग-रिंग रोड टी-जंक्शन अंडरपास 540 मीटर
6. सुप्रीम कोर्ट के पास अंडपास 474 मीटर



Source link

RELATED ARTICLES

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments