Sunday, June 26, 2022
HomeCrimeterrorist activities: SDPI संगठन का सदस्य निकला लखनऊ सहित 6 जगहों पर...

terrorist activities: SDPI संगठन का सदस्य निकला लखनऊ सहित 6 जगहों पर बम ब्लास्ट की धमकी देने का मामला, वॉयस मेसेज से हुआ खुलासा – sdpi member accused of bomb blast in 6 places including lucknow police remand news


लखनऊ: लखनऊ के अलीगंज स्थित एक स्कूल सहित देशभर में 6 जगहों पर बम धमाकों की धमकी देने वाले राज मोहम्मद ने एसडीपीआई नाम के संगठन का सदस्य होने की बात कबूली है। उसके मोबाइल फोन का डेटा एक्सट्रैक्ट करने पर धमकी भेजने वाला वॉयस मेसेज भी हाथ लगा है। सात दिनों की पुलिस कस्टडी रिमांड के दौरान राज ने बताया कि उसने देश में चल रहे मस्जिदों के विवाद को लेकर बम धमाकों की धमकी दी थी।

इस पूरे मामले में एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि राज मोहम्मद से यूपी एटीएस और मड़ियांव पुलिस ने 14 जून से लेकर 20 जून तक पुलिस कस्टडी रिमांड के दौरान अलग-अलग पूछताछ की थी। सात दिनों की पुलिस रिमांड खत्म होने के बाद राज मोहम्मद को सोमवार वापस गोसाईंगंज जिला जेल भेज दिया गया।

सूत्रों की मानें तो राज मोहम्मद के पास से मिले मोबाइल फोन को फरेंसिक लैब डेटा एक्सट्रैक्शन के लिए भेजा गया था। एफएसएल से मिले डेटा के आधार पर पता चला कि राज मोहम्मद ने धमकी भरा मेसेज पहले तमिल में वाइस रेकॉर्ड कर उसको गूगल ट्रांसलेटर की मदद से हिंदी और अंग्रेजी ने कंवर्ट किया था। उसी मेसेज को उसने आगे भेजा था।

ट्रांसलेटर की मदद भी ली गई थी
तमिलनाडु का रहने वाला राज मोहम्मद हिंदी नहीं जानता है। एक अधिकारी ने उससे कई घंटे तक अंग्रेजी भाषा ने पूछताछ की। उसने पूछताछ में कबूला कि देश में अलग-अलग जगहों पर मस्जिदों को लेकर चल रहे विवाद से नाराज होकर उसने धमकी भरा मेसेज भेजा था। उसने यह भी बताया कि वह एसडीपीआई नाम के संगठन से जुड़ा है। इतना ही नहीं वह कई धार्मिक जलसों में भी भाग लिया था। आरोपित से पूछताछ के लिए पुलिस ने भाषा ट्रांसलेटर की भी मदद ली थी।

फेसबुक को भेजा गया ईमेल
आरोपित राज मोहम्मद फेसबुक पर भी एक्टिव रहता था। एक अधिकारी ने बताया कि राज मोहम्मद की फेसबुक पर गतिविधियों के बारे में जानकारी हासिल करने के लिए फेसबुक को ईमेल भेजा गया है। फेसबुक से जानकारी मांगी गई है कि क्या कभी राज मोहम्मद ने कोई आपत्तिजनक पोस्ट किया था? और क्या कभी उसकी किसी गतिविधि के चलते फेसबुक ने उसको ब्लॉक किया था।

यह है पूरा मामला
लखनऊ के अलीगंज एक स्कूल, गोंडा के नवाबगंज सहित देशभर में 6 जगहों पर बम विस्फोट की धमकी मड़ियांव इलाके में रहने वाले डॉ. नीलकंठ मणि पुजारी को वॉट्सऐप मेसेज के माध्यम से 5 जून की दोपहर मिली थी। उनके पास सबसे पहले एक वॉट्सऐप ग्रुप जॉइन करने के लिए लिंक आया था। लिंक के माध्यम से उन्होंने जैसे ही उस ग्रुप को जॉइन किया वैसे ही उनके पास धमकी भरे तीन मेसेज आए थे। उन्होंने उसी दिन मड़ियांव कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज करवाई थी। इसके बाद यूपी एटीएस ने तमिलनाडु निवासी राज मोहम्मद को गिरफ्तार किया था।



Source link

RELATED ARTICLES

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments