Super Mom, Mom tips : ये छोटे-छोटे काम कर के आप भी बन सकती हैं सुपर मॉम, पूरा घर करेगा आपकी तारीफ – 5 tips to become super mom


मां बनने के बाद पूरी जिंदगी बदल जाती है। अब आप सिर्फ एक बहू, पत्‍नी, बेटी या बहन नहीं होती हैं बल्कि एक सुपरहीरा बनने की राह पर होती हैं। आपको पूरे दिन भागना पड़ता है, घर के काम, ऑफिस की जिम्‍मेदारियां और छोटे बच्‍चे को संभालने में पूरा दिन निकल जाता है। चेहरे पर प्‍यारी-सी मुस्‍कान लिए आप ये सारा काम कर लेती हैं और रात को जब बिस्‍तर पर लेटती हैं तो खुद को किसी सुपरहीरो से कम महसूस नहीं करती हैं। रोज के कामों और जिम्‍मेदारियों का असर आपकी सेहत पर भी पड़ता है। रात को ठीक से नींद न ले पाने और ढेरों चिंताओं के बीच आपका शरीर कमजोर और स्किन बेजान होने लगती है। आप खुद ही अपने आप को पहचानना बंद कर देती हैं। लेकिन अगर आप खुद पर थोड़ा ध्‍यान दें तो अपने कामों से ही नहीं बल्कि अपने चेहरे और बॉडी से भी सुपरहीरो जैसी चमक पा सकती हैं।

यहां हम आपको कुछ ऐसे टिप्‍स बता रहे हैं जिनकी मदद से आप सुपरहीरो ना सिर्फ बन सकती हैं बल्कि उसके जैसा दिख भी सकती हैं और फिर घर में सभी कहेंगे कि वाकई में आपने सारी जिम्‍मेदारियों को एक सुपरहीरो की तरह संभाल रखा है।

​ना कैसे करना है

94372302

दूसरों को खुद करना बंद कर देंगे तो आपकी आधी परेशानियां ऐसे ही खत्‍म हो जाएंगी। आप अपने दोस्‍तों, रिश्‍तेदारों और सहकर्मियों को अपना फायदा उठाने ना दें और उन पर अपना समय और एनर्जी बर्बाद ना करें। आप ‘ना’ कहना सीखें और अपने समय और एनर्जी को अपने और अपने बच्‍चों के लिए रखें।

फोटो साभार : pexels

​पति को नहीं छोड़ती

94372251

अक्‍सर देखा गया है कि बच्‍चा होने के बाद पति-पत्‍नी के बीच दूरियां आने लगती हैं और माएं अपने बच्‍चे की देखभाल में बिजी होने की वजह से पति पर ध्‍यान देना छोड़ देती हैं। अगर आप सुपर मॉम या सुपर हीरो बनना चाहती हैं तो आपको अपने पति होने का रोल नहीं छोड़ना है। जब पति खुश होंगे तो आपके चेहरे पर मुस्‍कान अपने आप आ जाएगी।

मन की बात सुनें

94372199

सुपर मॉम को पता होता है कि उनके बच्‍चे के लिए क्‍या सही है और वो अपने मन की बात सुनती हैं ना कि दूसरों की राय पर चलना पसंद करती हैं। आप दूसरों से सलाह ले सकत हैं लेकिन ये भी समझें कि आपके बच्‍चे के हिसाब से क्‍या सही है।

​परफेक्‍शन कहीं नहीं है

94372173

सुपर मॉम इस बात को अच्‍छी तरह से जानती हैं कि परफेक्‍शन सिर्फ सपनों में होता है और गलतियां कर के ही आप सीखते हैं और ग्रोथ करते हैं। वो समझती हैं कि किसी चीज के परिणाम को जानने के लिए बच्‍चे अपनी बाउंड्री को टेस्‍ट करेंगे और वो इसका मौका भी देती हैं।

​स्ट्रिक्‍ट नहीं होती हैं

94372141

चिकन सूप फॉर द सोल के सह लेखकर बॉब डिकसन कहते हैं कि सुपर मॉम अपने शेड्यूल को लेकर ज्‍यादा स्ट्रिक्‍ट नहीं होती हैं और अपने बच्‍चों के साथ पार्टी करना भी पसंद करती हैं। वो मां होने के हर पल को एंजॉय करना चाहती हैं और सुपर मॉम बनने के लिए आपको भी य‍ही करना है।



Source link

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: