Wednesday, June 29, 2022
HomeHealth Newssigns of blockage in heart: 5 early signs of heart disease you...

signs of blockage in heart: 5 early signs of heart disease you should not ignore it may help you to prevent worse situation – नाखून और त्वचा में ये 5 तरह के बदलाव दिखें तो तुरंत डॉक्टर से मिले, हो सकते हैं Heart Disease के संकेत


हृदय रोग (Heart Disease) असंतुलित जीवनशैली और धूम्रपान का परिणाम होता है। यह रोग बंद धमनियां से लेकर संक्रमण तक दूसरे कई स्वास्थ्य संबंधित स्थितियों को पैदा करते है। यह सिर्फ एक या दो नहीं है, बल्कि स्थितियों का पूरा समूह होता है, जो आपके दिल और शरीर को अलग-अलग तरीकों से प्रभावित करता है। यह दिल के दौरे और स्ट्रोक जैसी समस्याओं को जन्म दे सकता है। भारत दुनिया के उन देशों में से एक है जहां सबसे ज्यादा दिल के मरीज मिलते हैं। 2020 के एक आंकड़े के अनुसार देश में दिल की बीमारी की वजह से 4 करोड़ से ज्यादा लोगों की मौत हुई है।

हृदय रोग उन बीमारियों में से है, जो शरीर में अचानक नहीं होते हैं। यह रोग शरीर में महीनों और वर्षों तक स्वयं का निर्माण करता है। जब तक यह दिखाई देता है, तब तक यह पूरी स्वास्थ्य प्रणाली पर हावी हो चुका होता है। इसलिए कहा जाता है कि दिल के रोग साइलेंट किलर होते हैं। हालांकि, कुछ ऐसे संकेत और लक्षण हैं जो दिखने में सामान्य लगते हैं लेकिन वास्तव में हृदय स्वास्थ्य से जुड़े होते हैं। इन पर यदि शुरूआत में ही ध्यान दिया जाए और उनका ध्यान रखा जाए तो हृदय को बचाया जा सकता है। और कई वर्षों तक इसकी लंबी उम्र बढ़ाई जा सकती है। यहाँ हृदय रोग के कुछ लक्षण दिए गए हैं जो त्वचा पर दिखाई देते हैं।

​पीठ, पैर, आंख पर चिकनी वसा का जमा होना

navbharat times

मोमी त्वचा का बढ़ना कोलेस्ट्रॉल की समस्या का एक और संकेत है। यह आमतौर पर हाथों, आंखों, पैरों के पिछले हिस्से या पीठ पर दिखाई देते हैं। पीले-नारंगी रंग के धब्बे त्वचा के नीचे वसायुक्त कोलेस्ट्रॉल जमा होने का संकेत दे सकते हैं। जो हृदय रोग या दिल के दौरे के विकास की ओर इशारा करते हैं।

स्वास्थ्य विशेषज्ञों का कहना है कि त्वचा के नीचे इस प्रकार का जमाव मुख्य रूप से ट्राइग्लिसराइड्स के अत्यधिक उच्च स्तर के कारण होता है। इसे समय पर डॉक्टर को दिखाना लेना आपके स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद हो सकता है।

​तेड़े-मेड़े नाखून

navbharat times

मेडिकल में तेड़े मेड़े आकार के नाखूनों को क्लबिंग नेल्स के रूप में जाना जाता है। नाखूनों के आकार में इस प्रकार का परिवर्तन कोलेस्ट्रॉल के उच्च स्तर से जुड़ा हो सकता है। कई मामलों में नाखूनों में इस प्रकार के बदलाव फेफड़ों और हृदय संबंधी स्वास्थ्य समस्याओं में भी देखी गयी है।

​नाखूनों पर रंगीन रेखाओं का आना

navbharat times

नाखूनों पर लाल और बैंगनी रंग की रेखाएं बनना इस बात का स्पष्ट संकेत है कि आपके शरीर के अंदर कुछ ठीक नहीं है। नाखून हृदय रोग सहित शरीर की कई बीमारियों के संकेतक होते हैं। यदि लंबे समय तक आपने अपने नाखूनों में कुछ बदलाव को नोटिस करते हैं, तो यह आपके लिए खतरे की घंटी हो सकती है। बिना नंजरअंदाज किए तुरंत डॉक्टर से परामर्श लें।

​उंगलियों में गांठ

navbharat times

हाथों और पैरो की उंगलियों में बिना किसी कारण के कई दिनों तक दर्दनाक गांठ आपको संकेत दे सकती है कि आपके कोलेस्ट्रॉल का स्तर अपनी सीमा को पार कर गया है। हालांकि शरीर पर पढ़ने वाली सारी गांठें नुकसानदेह नहीं होती है, लेकिन इनका बार-बार होना शरीर में पैदा हो रही बीमारी का संकेत हो सकता है।

​​त्वचा पर दिखने लगता है जाल जैसा पैटर्न

navbharat times

यदि आप अपने शरीर में किसी भी हिस्से की त्वचा पर नीले या बैंगनी रंग का पैटर्न देखते हैं, तो आपको डॉक्टर से परामर्श करना चाहिए। इसे इंफेक्शन या रैश समझकर नजरअंदाज करना आपको जानलेवा बीमारी के खतरे में डाल सकता है। यह जाल जैसा दिखने वाला पैटर्न कोलेस्ट्रॉल एम्बोलिज़ेशन सिंड्रोम नामक एक स्वास्थ्य स्थिति के कारण होता है। यह स्थिति धमनियों के ब्लॉक हो जाने से पैदा होती है।

डिस्क्लेमर: यह लेख केवल सामान्य जानकारी के लिए है। यह किसी भी तरह से किसी दवा या इलाज का विकल्प नहीं हो सकता। ज्यादा जानकारी के लिए हमेशा अपने डॉक्टर से संपर्क करें।



Source link

RELATED ARTICLES

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments