Saturday, June 25, 2022
HomeNewsParenting Style: here are few parenting tips from around the wold -...

Parenting Style: here are few parenting tips from around the wold – इस देश में 4 साल के बच्‍चे खुद बस पकड़ कर जाते हैं स्‍कूल, इन देशों में बहुत अजीब है बच्‍चों को पालने का तरीका


​केन्‍या

navbharat times

हम मानते हैं कि आई कॉन्‍टैक्‍ट से कम्‍यूनिकेशन बेहतर होता है जब‍कि केन्‍या के लोगों का अलग मानना है।

यहां मांएं बच्‍चे को अपने साथ हर जगह लेकर जाती हैं लेकिन उनके रोने पर प्रतिक्रिया नहीं देती है और ना ही उनकी आंखों में देखती हैं। यहां पर मानना है कि आंखों में देखने का मतलब बच्‍चे को ये बताना है कि मालिक है जबकि कोई पैरेंट्स अपने बच्‍चे को यह बताना नहीं चाहता है।

फोटो साभार : TOI

​जापान

navbharat times

जापान में जब बच्‍चा (Japanese Parenting) चार साल का हो जाता है तो उसे पैरेंट्स का ध्‍यान या अटेंशन मिलनी बंद हो जाती है। इस उम्र से ही बच्‍चा खुद स्‍कूल जाएगा। स्‍कूल में उसे अपनी क्‍लास की सफाई भी करनी होगी। जापानी मानते हैं कि बच्‍चों को स्‍वतंत्रता और जिम्‍मेदारी का पता होना चाहिए।

फोटो साभार : TOI

​जर्मनी

navbharat times

बच्‍चों की देखभाल पैरेंट्स को काफी महंगी पड़ती है लेकिन जर्मनी में ऐसा नहीं है। यहां पर माता-पिता को बच्‍चों की परवरिश को लेकर सरकार की ओर से मदद मिलती है। अगर जर्मनी में बच्‍चा 18 साल के होने के बाद भी काम नहीं कर रहा है और पढ़ाई कर रहा है तो उसे 21 या यहां तक कि 25 साल के होने तक सरकारी से मासिक खर्च मिलता है।

फोटो साभार : TOI

​इटली

navbharat times

इटली में बच्‍चों को भी वाइन पीने की इजाजत है। यहां माना जाता है कि अगर बच्‍चों को कम उम्र से ही डिनर पर वाइन दी जाए और उन्‍हें वाइन कल्‍चर के बारे में बताया जाए तो इससे वो एक जिम्‍मेदार ड्रिंकर बनते हैं और कम वाइन पीते हैं।

इस आर्टिकल को अंग्रेजी में पढ़ें



Source link

RELATED ARTICLES

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments