एक लाख करोड़ लागत की सौगात उत्तर प्रदेश को 
March 6, 2019 • Editor Awazehindtimes

श्री राजनाथ सिंह कल लखनऊ-कानपुर एक्सप्रेस वे सहित 80 परियोजनाओं में से कुछ का उद्घाटन और कुछ का शिलान्यास करेंगे

केंद्रीय गृह मंत्री श्री राजनाथ सिंह कल लखनऊ (उत्तर प्रदेश) में 1,10,154 करोड़ रुपये लागत की राष्ट्रीय राजमार्ग परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास करेंगे। वे नमामि गंगे परियोजनाओं के तहत 1969.57 करोड़ रुपये लागत के अनेक कार्यों का उद्घाटन/ शिलान्यास करेंगे। श्री राजनाथ सिंह के साथ केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग, शिपिंग एवं जल संसाधन, नदी विकास और गंगा संरक्षण मंत्री श्री नितिन गडकरी और उत्तर प्रदेश के मुख्य मंत्री श्री योगी आदित्यनाथ भी मौजूद रहेंगे।

उद्घाटन किये जाने वाले राष्ट्रीय राजमार्गों में राष्ट्रीय राजमार्ग 56 के लखनऊ सुल्तानपुर खंड और लखनऊ रिंग रोड के कुर्सी रोड-अयोध्या रोड खंड को चार लेन का बनाना, राष्ट्रीय राजमार्ग 233 के घाघरा ब्रिज से बुधनपुर खंड को चार लेन का बनाना, राष्ट्रीय राजमार्ग 29ई के सोनोली-गोरखपुर खंड को पक्के ढलानों के साथ दो लेन चौड़ा करना, राष्ट्रीय राजमार्ग 28सी के बाराबंकी–जर्वाल रोड जंक्शन को पक्के ढलानों के साथ दो लेन चौड़ा करना, राष्ट्रीय राजमार्ग 233 के रूदोली-बस्ती खंड को पक्के ढलानों के साथ दो लेन चौड़ा करना, राष्ट्रीय राजमार्ग 730ए के 55 किलोमीटर लम्बे खंड को पक्के ढलानों के साथ दो लेन चौड़ा करना, राष्ट्रीय राजमार्ग 730 के पीलीभीत-पूरणपुर खंड को पक्के ढलानों के साथ दो लेन चौड़ा करना और राष्ट्रीय राजमार्ग 730 के पूरणपुर-खुटार खंड को पक्के ढलानों के साथ दो लेन चौड़ा करना और राष्ट्रीय राजमार्ग 730 के सिसिया-नानपारा खंड का पुनर्निर्माण और उन्नयन करना शामिल है।

श्री राजनाथ सिंह लखनऊ- कानपुर एक्सप्रेस-वे के निर्माण की भी आधारशिला रखेंगे। अन्य परियोजनाओं में आईआईएम क्रोसिंग पर फ्लाइओवर का निर्माण, राष्ट्रीय राजमार्ग -31ए पर गाजीपुर-फेफना-माझीपुर रोड का निर्माण, विभिन्न राजमार्गों पर फ्लाइओवर, बाइपास, एफओबी और सड़क सुरक्षा के लिए अंडरपासों का निर्माण, राष्ट्रीय राजमार्ग 530बी पर मथुरा-हाथरस-बदांयू रोड का चार लेन का निर्माण, राष्ट्रीय राजमार्ग 91 पर पांच चरणों में अलीगढ़- कानपुर रोड के चार लेन का निर्माण, राष्ट्रीय राजमार्ग 232ए पर उन्नाव-लाल गंज रोड का चार लेन का निर्माण और राष्ट्रीय राजमार्ग 2 पर चकेरी (कानपुर)-प्रयागराज रोड का 6 लेन तक चौड़ीकरण करना शामिल है। श्री सिंह अमेठी बाईपास के निर्माण और राज्य में राजमार्गों के महत्वपूर्ण खंडों को चौड़ा करने और निर्माण करने की आधारशिला रखेंगे। विभिन्न परियोजनाओं के लिए व्यापक परियोजना रिपोर्ट (डीआरपी) भी इस अवसर पर शुरू की जाएंगी।

श्री राजनाथ सिंह नमामि गंगे कार्यक्रम के तहत अनेक परियोजनाओं का भी उद्घाटन करेंगे। इनमें प्रयागराज में 260.86 करोड़ रुपये की लागत वाले 214.88 किलोमीटर लम्बे सीवरेज नेटवर्क को बिछाना, गढ़मुक्तेश्वर में 46.51 करोड़ रुपये की लागत से 9 एमएलडी क्षमता की दो एसटीपी सहित 69 किलोमीटर सीवरेज नेटवर्क बिछाना, कन्नौज में 80.66 करोड़ रुपये की लागत से 98.5 किलोमीटर सीवरेज नेटवर्क बिछाना और 13 एमएलडी एसटीपी कार्य, बुलंदशहर में 48.45 करोड़ रुपये की लागत से 21.03 किलोमीटर सीवरेज नेटवर्क बिछाना और 4 एमएलडी एसटीपी निर्माण शामिल हैं। इन सभी परियोजनाओं में सीवरेज घरों से लेकर सीधे एसटीपी में भेजा जाएगा।

गंगा, यमुना, गोमती, रामगंगा और काली नदी पर अनेक परियोजनाओं की आधारशिला रखी जाएगी। इनमें मिर्जापुर में नालों का अवरोधन और मोड तथा 17 एमएलडी एसटीपी का निर्माण, गाजीपुर में नालों का अवरोधन और मोड तथा 17 एमएलडी एसटीपी का निर्माण, फर्रुखाबाद में 419.36 करोड़ रुपये की परियोजना लागत से 73 एमएलडी की कुल एसटीपी क्षमता के साथ गंगा नदी पर नालों का अवरोधन और मोड तथा 35 एमएलडी एसटीपी का निर्माण शामिल हैं। यमुना नदी की परियोजनाओं में इटावा में नालों का अवरोधन और मोड तथा 21 एमएलडी एसटीपी का निर्माण, फिरोजाबाद में 191.68 करोड़ रुपये की परियोजना लागत से 21 एमएलडी की कुल एसटीपी का निर्माण शामिल है।

गोमती नदी पर जौनपुर में नालों का अवरोधन और मोड तथा 30 एमएलडी एसटीपी का निर्माण, सुल्तानपुर में नालों का अवरोधन और मोड तथा 40 एमएलडी एसटीपी का निर्माण के साथ-साथ लखनऊ में 568.93 करोड़ रुपये की परियोजना लागत से 87 एमएलडी की कुल एसटीपी क्षमता के साथ-साथ 42 एमएलडी का पुनर्वास शामिल है। इसके अलावा बरेली में रामगंगा नदी के साथ-साथ नालों का अवरोधन और मोड तथा 63 एमएलडी एसटीपी का निर्माण तथा कासगंज में काली नदी के साथ-साथ नालों का अवरोधन और मोड तथा 15 एमएलडी एसटीपी का निर्माण शामिल है।