nia and ats in delhi ied case: NIA और यूपी ATS भी टेरर एंगल से कर रहे तफ्तीश,latest news update on delhi seemapuri ied case


नई दिल्लीः यूपी के गाजियाबाद जिले से महज 100 मीटर की दूरी पर स्थित दिल्ली के पुरानी सीमापुरी के मकान में इंप्रोवाइज्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस (IED) यानी जुगाड़ू बम बनाने का काम चल रहा था। स्पेशल सेल की टीम गाजीपुर मंडी में 14 जनवरी को मिले विस्फोटक की जांच करते हुए इस मकान तक पहुंची थी। पिछले एक महीने से गाजीपुर से सीमापुरी तक के सीसीटीवी कैमरों को खंगालकर संदिग्धों की तलाश में सेल की टीम खाक छान रही थी। गुरुवार दोपहर को इनके जरिए स्पेशल सेल की टीम लोकेशन तक पहुंची तो आरोपी गायब थे। टेरर एंगल सामने आने से केंद्रीय जांच एजेंसियां और यूपी पुलिस भी तफ्तीश में जुटे हैं।

navbharat times
पहले दो ने कमरा किराए पर लिया, फिर 2 और आ गए, दिल्ली को RDX से दहलाने की पूरी साजिश कैसे बुनी गई, समझ‍िए

स्पेशल सेल की टीम ने शहीद नगर में रहने वाले मकान मालिक हाशिम और संदिग्धों को मकान पर किराए पर दिलाने वाले सीमापुरी के प्रॉपर्टी डीलर शमीम से लगातार पूछताछ कर रही है। उनके कॉल डिटेल रिकॉर्ड को खंगाला जा रहा है। मकान मालिक और प्रॉपर्टी डीलर के घरवालों का कहना है कि उन्हें पता नहीं है कि दोनों को कहा रखा गया है। दोनों से उनकी कोई बात नहीं हुई है। पुलिस सूत्रों ने बताया कि दिसंबर 2021 को दो लड़कों को किराए पर मकान दिया गया था। ये संदिग्ध सीमापुरी में बैठ विस्फोटक तैयार कर कहां प्लांट करना चाहते थे, यह सवाल सुरक्षा एजेंसियों को सबसे ज्यादा परेशान कर रहा है।

navbharat timesIED found in Seemapuri: दिल्ली में टेरर प्लान की साजिश का मास्टर माइंड कौन? तलाश हुई तेज
उत्तर प्रदेश पुलिस की एंटी टेररिज्म स्क्वॉड (ATS) की एक टीम ने भी शुक्रवार सुबह सीमापुरी के मकान का मुआयना किया। यह टीम मकान मालिक हाशिम के शहीद नगर स्थित घर पर भी पूछताछ के लिए गई थी। पुलिस सूत्रों ने बताया कि यूपी इलेक्शन को लेकर किसी साजिश की तफ्तीश करने के लिए यूपी की एटीएस आई थी। नैशनल इनवेस्टिगेशन एजेंसी (NIA) की एक टीम भी सीमापुरी वाले मकान पर आई। पुलिस ने इस मकान पर ताला लगा रखा है और उस कमरे पर सील लगा रखी है, जहां पर आरोपी रहते थे। एनआईए की टीम ने मकान खुलवाया और दूसरी मंजिल से लेकर छत तक मुआयना किया। सिर्फ सील लगे कमरे में एनआईए की टीम नहीं गई।

navbharat timesसीमापुरी में बंद घर से मिला IED, 3-4 संदिग्‍ध मौके से फरार… खौफ में 200 लोगों ने छोड़ा घर
एनआईए के सदस्यों ने बगल वाले मकान की एक महिला से छत में पूछताछ की। एक मेंबर ने पड़ोस में बैठी महिलाओं के झुंड से भी बात की। वह संदिग्धों के बारे में जानकारी हासिल करने के अलावा यह पूछ रहे थे कि क्या संदिग्धों के साथ कोई महिला या लड़की भी रहती थी। पड़ोसियों का कहना था कि उन्हें तो ये भी पता नहीं है कि वहां रहता कौन था। जिस मकान की दूसरी मंजिल पर संदिग्ध रहते थे, उसके बिल्कुल सामने के मकान की दूसरी मंजिल पर रहने वाले संजय ने बताया कि वहां दो-तीन लड़के दिखते तो थे, लेकिन कभी उनकी शक्ल ठीक से देख नहीं पाए।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: