Monday, August 8, 2022
spot_img
HomePoliticalMoney Laundering Case: ईडी की चार्जशीट में सत्येंद्र जैन के साथ पत्नी...

Money Laundering Case: ईडी की चार्जशीट में सत्येंद्र जैन के साथ पत्नी भी आरोपी – money laundering case: ed files charge sheet against aap minister satyendar jain

प्रमुख संवाददाता, नई दिल्लीः प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने मनी लॉन्ड्रिंग मामले में गिरफ्तार दिल्ली के मंत्री सत्येंद्र जैन के खिलाफ अपनी चार्जशीट बुधवार को अदालत में दायर कर दी। इसमें 10 को आरोपी के तौर पर नामजद किया गया है, जिनमें छह लोगों और चार कंपनियों के नाम हैं। आरोपियों में एक नाम मंत्री की पत्नी का भी बताया जा रहा है।

जैन को पीएमएलए की आपराधिक धाराओं के तहत 30 मई को गिरफ्तार किया गया था। जैन ने इस बीच अदालत से जमानत लेने की भी नाकाम कोशिश की थी। वह फिलहाल न्यायिक हिरासत में हैं। एजेंसी ने जैन, उनकी पत्नी पूनम जैन और अजीत प्रसाद जैन, सुनील कुमार जैन, वैभव जैन और अंकुश जैन के खिलाफ भ्रष्टाचार निरोधक अधिनियम के तहत अगस्त 2017 में सीबीआई द्वारा दर्ज एफआईआर के आधार पर धनशोधन की जांच शुरू की थी। सीबीआई ने आरोप लगाया है कि जैन ने 14 फरवरी, 2015 से 31 मई, 2017 की अवधि के दौरान दिल्ली सरकार में मंत्री के पद पर रहते हुए, अपनी आय के ज्ञात स्रोतों से अधिक संपत्ति अर्जित की है। ईडी की ओर से विशेष पब्लिक प्रॉस्क्यूटर एन. के. माटा ने अडिशनल सेशन जज गीतांजलि गोयल की कोर्ट में चार्जशीट पेश की। उस वक्त जांच अधिकारी पवन यादव भी कोर्ट में मौजूद थे। जज ने अपने कोर्ट स्टाफ को निर्देश दिया कि वह दस्तावेजों के बारे में रिपोर्ट करें और इस पर विचार के लिए 29 जुलाई की तारीख तय कर दी। ईडी ने 1 जुलाई को स्वास्थ्य मंत्री के दो सहयोगियों वैभव जैन और अंकुश जैन को गिरफ्तार किया था।

navbharat times

‘आपराधिक बैकग्राउंड वाले शख्स को मंत्री पद पर रखना चाहिए’?, सत्येंद्र जैन पर सीएम केजरीवाल को क्या नसीहत दे गया दिल्ली हाई कोर्ट
सत्येंद्र जैन को हटाने के लिए नहीं कह सकते: HC
दिल्ली हाईकोर्ट ने प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की हिरासत में चल रहे सत्येंद्र जैन को कैबिनेट मंत्री के पद से निलंबित करने की मांग वाली याचिका खारिज कर दी। कोर्ट ने कहा कि वो सरकार से तो उन्हें हटाने के लिए नहीं कह सकते। लेकिन सरकार को सोचना होगा कि क्या इस तरह का शख्स मंत्रिमंडल का हिस्सा बना रह सकता है। हमें अपनी सीमाएं पता हैं। हमें कानूनों और नियमों का पालन करना होगा। हम इससे आगे नहीं जा सकते। हम कानून बनाने वाले नहीं हैं। याचिकाकर्ता पूर्व बीजेपी विधायक नंद किशोर गर्ग का कहना है कि हवाला कारोबार में कथित संलिप्तता को लेकर मनी लॉन्ड्रिंग मामले में जैन को गिरफ्तार किया गया था और यह शासन में कानून बनाने वाले एक लोक सेवक के लिए ठीक नहीं है। सीबीआई ने जैन, उनकी पत्नी और अन्य पर अपराध का आरोप लगाया है। उधर, ईडी ने सत्येंद्र जैन के खिलाफ अपनी चार्जशीट बुधवार को दायर की। इसमें 10 को आरोपी के तौर पर नामजद किया गया है। आरोपियों में एक नाम मंत्री की पत्नी का भी बताया जा रहा है।



Source link

RELATED ARTICLES

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments