Mary Kom Practice in Manipur due to delhi winter and corona cases


नई दिल्ली. छह बार की विश्व चैंपियन बॉक्सर एमसी मैरी कॉम (MC Mary Kom) मणिपुर में प्रैक्टिस कर रही हैं. इसका कारण दिल्ली में कोविड-19 का खतरा और ठंड के मौसम से बचना है. उन्होंने इसी के चलते अगले कुछ सप्ताह तक अपने गृह राज्य मणिपुर में अभ्यास जारी रखने का फैसला किया है. आने वाले व्यस्त कैलेंडर के लिए 38 साल की यह दिग्गज मुक्केबाज कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती हैं.

एशियाई खेलों में कई बार स्वर्ण पदक जीतने के साथ लंदन ओलंपिक (2012) में कांस्य पदक जीतने वाली मैरी कॉम इस साल विश्व चैंपियनशिप (मई), राष्ट्रमंडल खेलों (जुलाई-अगस्त) और एशियाई खेल (सितंबर) में देश के प्रतिनिधित्व की दावेदारी करेंगी. उन्होंने इम्फाल से पीटीआई से कहा, ‘हां, मैंने कुछ दिन पहले भारतीय मुक्केबाजी महासंघ और भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) से उचित अनुमति लेने के बाद मणिपुर में प्रशिक्षण शुरू किया है क्योंकि दिल्ली में अभी कोविड-19 के मामले बहुत अधिक हैं और ठंड भी काफी ज्यादा है.’

इसे भी देखें, प्रियंका चोपड़ा ने माना कि ‘मैरी कॉम’ के लिए नॉर्थ ईस्ट एक्ट्रेस को लिया जाना चाहिए था

उन्होंने कहा, ‘कोरोना वायरस का खतरा हमेशा मेरे लिए एक प्रमुख चिंता का विषय रहा है और मुझे याद है कि 2020 में यह कितना भयानक था. इसलिए, मैं राष्ट्रीय महासंघ, साई और टारगेट ओलंपिक पोडियम योजना समिति की आभारी हूं, जिन्होंने इस पर ध्यान दिया.’

38 साल की इस बॉक्सर ने कहा, ‘मुझे अगले 2-3 सप्ताह तक मणिपुर में रहने की उम्मीद है.’ दिल्ली में पिछले कई दिनों से कोरोना वायरस के 10,000 से अधिक मामले दर्ज किए जा रहे है और संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए कई प्रतिबंध लगाए गए हैं. मैरी कॉम आम तौर पर बहु-खेल प्रतियोगिता में 51 किग्रा में प्रतिस्पर्धा करती हैं और विश्व चैंपियनशिप के लिए 48 किग्रा में रहना पसंद करती हैं. उनके कोच छोटे लाल यादव के साथ उनके सहयोगी स्टाफ भी इम्फाल में शामिल हैं.

इम्फाल में वह खुद की स्थापित मुक्केबाजी अकादमी में प्रशिक्षण ले रही हैं. कुछ साल पहले शुरू हुई इस अकादमी को साई से मान्यता मिली हुई है. मैरी कॉम ने कहा, ‘पिछले कुछ समय से दिल्ली में शायद ही धूप खिल रही हो. मणिपुर में भी सर्दी का मौसम होता है लेकिन दिन साफ होते हैं और धूप के कारण उतनी ठंड नहीं होती है.’

महिलाओं के लिए राष्ट्रीय मुक्केबाजी शिविर हालांकि दिल्ली में जारी है जिसमें 42 मुक्केबाज हिस्सा ले रही हैं. मैरी कॉम अपने शानदार करियर के अंतिम चरण में हैं. उन्होंने कहा कि वह हमेशा की तरह अब भी टूर्नामेंटों को जीतने के लिए प्रेरित है. उन्होंने कहा, ‘तकनीकी रूप से मेरे पास प्रतिस्पर्धा करने के लिए दो और साल बाकी हैं क्योंकि मुक्केबाजी के लिए अधिकतम कट ऑफ उम्र 40 है और मैं यह सुनिश्चित करने के लिए उत्सुक हूं कि मेरी लय जारी रहे.’

Tags: Boxing, Mary kom, Mc mary kom, Sports news

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: