lucknow crime news: Case of woman burnt body found in Lucknow: महिला की जली हुई लाश मिलने के मामले में हुई कार्रवाई, लखनऊ पुलिस ने पांच टीमों का किया गठन, महिला की डीएनए प्रोफाइलिंग कराने की तैयारी – Action taken in case of woman’s burnt body, Lucknow Police constitutes five teams, preparing for DNA profiling of woman – Navbharat Times


लखनऊ: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के लखनऊ (Lucknow) में मिले जले शव की शिनाख्त नहीं हो पाई है। ठाकुरगंज के घैला पुल के पास सोमवार को मिले महिला का जले हुआ शव बरामद किया गया था। इस मामले में अब तक पुलिस के हाथ कोई सफलता नहीं लगी है। महिला के शिनाख्त के लिए 30 से अधिक पुलिसकर्मियों की पांच अलग-अलग टीमें बनाई गई हैं। वहीं, पुलिस ने महिला के डीएनए प्रोफाइलिंग के लिए भी बात कही है। महिला की पहचान कर पाना पुलिस के लिए बड़ी चुनौती बन गया है।

पांच टीमों को दिए गए अलग-अलग टास्क
एसीपी चौक आईपी सिंह ने बताया कि अब तक महिला के शव की शिनाख्त नहीं हो सकी है। उन्होंने बताया कि मंगलवार को एडीसीपी पश्चिमी सीएन सिन्हा ने ठाकुरगंज थाने पर इस संबंध में एक मीटिंग भी की, जिसमें पुलिस की पांच टीमों को गठन किया गया है। एक टीम शहर के आसपास के जनपदों में लापता और अपहृत महिलाओं और युवतियों के बारे में जानकारी जुटाने के लिए भेजी गई है।

दूसरी टीम घटनास्थल के एंट्री और एग्जिट पॉइंट पर लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगालेगी। पुलिस की तीसरी टीम घैला तक जाने वाले रास्ते में पड़ने वाले टोल प्लाजा के सीसीटीवी कैमरों को चेक करेगी, जबकि चौथी टीम को घटनास्थल के पास आसपास लोगों से बातचीत करने और यह पता लगाने के लिए लगाया गया है कि किस व्यक्ति ने महिला के शव को सबसे पहली बार देखा और कब देखा। पांचवीं टीम घटनास्थल के पास के मोबाइल टावर से संदिग्ध मोबाइल नंबरों की सूची तैयार करने के लिए गठित की गई है।

पोस्टमॉर्टम के बाद ही पता चलेगी मौत की वजह
पुलिस ने डीसीआरबी की मदद से महिला के शव की फोटो को सभी जनपदों की पुलिस को भेजने के साथ ही कई जगहों पर चस्पा भी करवाया है, ताकि शिनाख्त हो सके। एसीपी ने बताया कि शव मिलने के 72 घंटे के बाद उसका पोस्टमॉर्टम करवाया जाएगा। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत की सही वजह पता चलेगी। पुलिस ने इस मामले में डीएनए प्रोफाइलिंग भी करवाने की बात कही है, ताकि भविष्य में शिनाख्त होने पर डीएनए का मिलान करवाया जा सके।

पूरी प्लानिंग के साथ ही गई घटना
इस पूरे मामले में एक बात तो साफ है कि इस घटना को पूरी प्लानिंग के साथ अंजाम दिया गया है। हत्यारों ने ऐसी जगहों को चुना जहां न तो कोई कैमरा लगा है और ना ही आसपास कोई घर हैं। साथ ही जलाने के तरीके से लग रहा है कि हत्या करने के बाद शव को पूरे इंतजाम के साथ जलाने के लिए वहां लगाया गया था।



Source link

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: