Awaz E Hind Times
आधे से ज्यादा कैंसर के मरीज़ दिल्ली-यूपी के एम्स में 
February 3, 2019 • एडिटर अवाज़ेहिंद टाइम्स

डॉक्टरों ने जताई चिंता, कैंसर मरीजों का
भौगोलिक विवरण आया सामने 

नई दिल्ली। दुनिया भर में विश्व कैंसर दिवस सोमवार को मनाया जाएगा। इससे पहले देश के सबसे बड़े चिकित्सीय संस्थान एम्स में कैंसर मरीजों को लेकर सामने आई एक भौगोलिक रिपेर्ट ने चौंका दिया है। पिछले दो साल में दिल्ली और उत्तर प्रदेश से सबसे ज्यदा कैंसर मरीज इलाज के लिए पहुंचे हैं। डॉक्टरों का दवा है कि एम्स आने वाले 50 फीसदी से ज्यादा कैंसर मरीज इन्हीं दो राज्यों से हैं। एम्स की 62वीं वार्षिक रिपोर्ट का उद्देश्य कैंसर की राज्यवार स्थिति पता कर स्थानीय स्तर पर चिकित्सा के ठोस कदम उठाय जाना है।

रिपोर्ट के अनुसार, हर साल एम्स में करीब 320 मरीजों की बीमारी से मौत हो रही है। डॉक्टरों के मुताबिक, उत्तराखंड में भी कैंसर तेजी से फैल रहा है। दो वर्षों में अकेले उत्तराखंड से ही करीब 700 मरीज एम्स पहुंचे हैं। चिंतित डॉक्टरों का मानना है कि शुद्ध वातावरण के बावजूद वहां बढ़ते कैंसर की वजह जानने के लिए अलग से रिसर्च होनी चाहिए। रिपोर्ट के मुताबिक हरियाणा से ज्यादातर मरीज नाजुक हालत में एम्स पहुंच रहे हैं। डॉक्टरों की मने तो झज्जर के बाढ़स में कैंसर संस्थान शुरू होने के बाद इन मरीजों को अब समय पर उपचार मिल सकता हैं