बिजनेस स्टडीज पेपर कुछ लंबा, कुछ ट्रिकी! मगर बैलेंस्ड
March 15, 2019 • Editor Awazehindtimes

12वीं के स्टूडेंट्स बायलॉजी का पेपर देंगे

12वीं क्लास का बिजनेस स्टडीज का पेपर ना कठिन ना आसान रहा। स्टूडेंट्स का कहना है कि पेपर के कुछ सवाल पेचीदा थे, हालांकि बाकी पेपर आसान था। टीचर्स का कहना है कि कुछ केस स्टडीज लंबी थी और कुछ सवाल विश्लेषण करने की काबिलियत को परखने वाले थे। जिन स्टूडेंट्स का सब्जेक्ट का कॉन्सेप्ट अच्छा है, वे इसमें हाई स्कोर पा सकते हैं। बिजनेस स्टडीज के पेपर के लिए देशभर और विदेश में 344684 स्टूडेंट्स रजिस्टर थे।

सीबीएसई ने बताया कि 3961 सेंटर्स पर एग्जाम बिना किसी दिक्कत के आराम से हुआ। आज 12वीं के स्टूडेंट्स बायलॉजी का पेपर देंगे। स्टूडेंट्स का कहना है कि केस स्टडीज की वजह से पेपर लंबा हुआ क्योंकि इन सवालों में सोचने में समय लगा, ये ट्रिकी क्वेश्चन थे। डीएवी स्कूल की स्टूडेंट सिमरन कहती हैं, मुझे पेपर आसान नहीं लगा, यह कुछ लंबा भी था। केस स्टडीज में मेरा काफी वक्त गया।

मैं चाहती थी कि अगर मेरे पास 15 मिनट और होते तो मैं और अच्छा कर पाती। वसुंधरा एनक्लेव की एवरग्रीन सीनियर सेकंडरी स्कूल के स्टूडेंट रुपेश ढिंगरा कहते हैं, केस स्टडीज मुझे कुछ उलझाने वाली लगीं। मैं खुश हूं कि मैंने उन्हें पूरा किया। बाकी पेपर आसान था। रोहिणी के माउंट आबू पब्लिक स्कूल की बिजनेस स्टडीज की टीचर चारु मल्होत्रा बताती हैं, पेपर बैलेंस और अच्छा था। इसकी कठिनाई का स्तर सामान्य था।

पेपर एनसीईआरटी की किताब से ही था और जिन बच्चों को अच्छा ज्ञान है, उन्हें इसमें अच्छा स्कोर मिलेगा। कुछ स्टडीज लंबी थीं। 32 नंबर के सवाल सीधे किताब से थे, 48 नंबर के ऐप्लिकेशन पर आधारित केस स्टडीज पर थे। अगर स्टूडेंट विश्लेषण और विवेचन अच्छा करता है, तो अच्छे नंबर उसके पास हैं।