Tuesday, June 28, 2022
HomeHealth Newshomemade energy drink for diabetics: 4 diabetes-friendly beverage options that do not...

homemade energy drink for diabetics: 4 diabetes-friendly beverage options that do not increase your sugar level – Diabetes के मरीज बेरोकटोक पिएं ये 4 ड्रिंक, स्वाद के साथ सेहत भी रहेगी बरकरार


मधुमेह(Diabetes) में कौन सा जूस फायदेमंद है? लोग अक्सर डायबिटीज में खाने और पीने की चीजो को लेकर परेशान रहते हैं। आमतौर पर लोगों यही पता होता है कि सिर्फ मीठा खाना हानिकारक होता है। और लोग मिठाई जैसी चीजों को खाना बंद कर देते हैं। पर इससे परेशानी खत्म नहीं होती है। मधुमेह के प्रबंधन की बात आती है, तो आप अपनी दिनचर्या में क्या पीते हैं, यह उतना ही महत्वपूर्ण है जितना कि आप क्या खाते हैं। एक गिलास फल का जूस भी आपका ब्लड प्रेशर बढ़ा सकता है।

यदि आप टाइप 2 डायबिटीज के मरीज हैं, तो सोडा, कोल्ड ड्रिंक, एनर्जी ड्रिंक, मीठी चाय और यहां तक कि फलों के रस जैसे सभी विकल्पों को छोड़ना होगा। इसकी जगह पर लो-शुगर, शुगर-फ्री, ज़ीरो या लो-कैलोरी ड्रिंक्स के विकल्प आपके लिए ज्यादा फायदेमंद है। इससे आपको गंभीर लक्षणों को कंट्रोल करने और स्वस्थ वजन बनाए रखने में मदद मिल सकती है।

2022 के आकंडों के अनुसार
भारत की कुल जनसंख्या की 9.3% आबादी डायबिटीज से ग्रसित है। ऐसे में जरूरी हो जाता है कि आप इससे जुड़ी तथ्यों की जानकारी रखें। अगर आपको डायबिटीज हो चुका है तो अपने खान-पान का विशेष ध्यान रखें।

​डायबिटीज होने की कॉमन वजह

navbharat times
  • फैमिली हिस्ट्री (आनुवांशिक रोग)
  • पेट की चर्बी
  • शारीरिक गतिविधियों का न होना
  • अनहेल्दी खाना
  • आहार में मीठे की अधिकता

​हर्बल टी

navbharat times

अगर आप चाय के शौकीन हैं तो आप बिना चीनी वाली चाय का सेवन कम मात्रा में कर सकते हैं। आप हरी, काली, सफेद या ऊलोंग चाय में से चुन सकते हैं। शोध से पता चला है कि ग्रीन टी का स्वास्थ्य पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता है। ग्रीन टी का दैनिक सेवन आपके टाइप 2 डायबिटीज के जोखिम को कम कर सकता है। बिना चीनी वाली हर्बल चाय कार्ब्स, कैलोरी, और एंटीऑक्सिडेंट गुणों से भरपूर होती है जो इम्यून सिस्टम को बढ़ावा देती है।

Tips- कैमोमाइल, हिबिस्कस, अदरक और पुदीने की चाय जैसे हर्बल चाय के विकल्प मधुमेह वाले लोगों के लिए बेहतरीन विकल्प हैं।

​शुगर फ्री कॉफी

navbharat times

कॉफी पीने से चीनी मेटाबॉलिज्म में सुधार होता है। इससे टाइप 2 मधुमेह के विकास के जोखिम को कम करने में मदद मिल सकती है। यह महत्वपूर्ण है कि आपकी कॉफी में चीनी न हो और इसमें दूध को न मिलाना ज्यादा फायदेमंद हो सकता है।

Tips-अगर आप अपनी कॉफी में दूध, क्रीम या चीनी मिलाते हैं, तो पेय की कैलोरी की मात्रा बढ़ जाएगी और यह आपके ब्लड शुगर के स्तर को प्रभावित कर सकता है।

​शुगर फ्री नींबू पानी

navbharat times

गर्मी और ह्यूमिडिटी से परेशान आप कुछ अच्छा और सेहतमंद पीना चाहते हैं, तो घर पर ही शुगर-फ्री नींबू पानी तैयार कर सकते हैं। स्वादिष्ट होने के साथ यह आपके ब्लड शुगर को बढ़ने से भी रोकता है।

Tips- इसे तैयार करने के लिए, ठंडे पानी में ताजा निचोड़ा हुआ नींबू का रस मिलाएं। आप इसमें अपनी पसंद के अनुसार कुछ बर्फ भी मिला सकते हैं। लेकिन ध्यान रहे इसमें चीनी नहीं डालनी है। स्वाद के लिए इसमें चीनी मुक्त स्वीटनर मिला सकते हैं। इसके अलावा ब्राउन शुगर या गुड़ पाउडर भी इसमें मिला सकते हैं।

​फल नहीं सब्जियों का जूस पिएं

navbharat times

चूंकि फलों के रस में चीनी की मात्रा अधिक होती है, यदि आप जूस पीना चाहते हैं, तो आप इसके बजाय सब्जियों के रस का विकल्प चुन सकते हैं। बाजार के जूस का सेवन करने के बजाय घर पर ही अपने ब्लेंडर में ताजा जूस निकाले।

ब्रिटिश जर्नल ऑफ न्यूट्रिशन में प्रकाशित एक शोध के अनुसार, एक महीने तक एक दिन में 1½ कप टमाटर का रस पीने से मोटापे से ग्रस्त महिलाओं में सूजन कम हो जाती है।

Tips- डायबिटीज से ग्रसित लोगों को ब्रोकोली, ककड़ी, टमाटर का जूस पीने की सलाह दी जाती है।

डिस्क्लेमर: यह लेख केवल सामान्य जानकारी के लिए है। यह किसी भी तरह से किसी दवा या इलाज का विकल्प नहीं हो सकता। ज्यादा जानकारी के लिए हमेशा अपने डॉक्टर से संपर्क करें।



Source link

RELATED ARTICLES

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments