Sunday, July 3, 2022
HomeHealth Newshealth effects of air pollution: air quality life index report study says...

health effects of air pollution: air quality life index report study says pollution shortening lives by almost 10 years in delhi heres how to protect yourself – Pollution-Health: अमेरिकी रिसर्च रिपोर्ट, दिल्‍ली की जहरीली Air Quality से 10 साल कम जिएंगे लोग, ऐसे बचाएं जान


देश की राजधानी नई दिल्ली की गिनती दुनिया के सबसे दूषित शहरों में होने लगी है। खराब हवा हर साल लाखों लोगों की जान ले रही है। हाल ही में वायु प्रदूषण को लेकर चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। शिकागो यूनिवर्सिटी के एनर्जी पॉलिसी इंस्टीट्यूट द्वारा एयर क्वालिटी लाइफ इंडेक्स रिपोर्ट के अनुसार, दिल्ली को दुनिया का सबसे प्रदूषित शहर बताया गया है। यहां पर लगातार बढ़ रहे वायु प्रदूषण के कारण लोगों का जीवन 10 साल घट रहा है। बता दें कि कि प्रदूषण के मामले में भारत बांग्लादेश के बाद दुनिया का दूसरा सबसे प्रदूषित देश है।

एयर क्वॉलिटी लाइफ इंडेक्स (AQLI) की रिपोर्ट के अनुसार, 2020 में दिल्ली की वार्षिक वायु गुणवत्ता मानक 107 µg/m3 थी, जो WHO की निर्धारित गाइडलाइन से 21 गुना अधिक है। कहा जाता है कि भारत की 63 प्रतिशत से ज्यादा आबादी ऐसे क्षेत्रों में रहती है , जो देश के राष्ट्रीय वायु गुणवत्ता मानक 40 µg/m3 से ज्यादा है। यदि वायु प्रदूषण का स्तर इसी तरह लगातार बढ़ता रहा , तो निश्चित रूप से पंजाब से लेकर पश्चिम बंगाल तक आधे अरब से ज्यादा लोगों का जीवन 7.6 साल तक कम हो जाएगा। रिपोर्ट कहती है कि वायु प्रदूषण से बचने के लिए उपाय करना बेहद जरूरी है। तो आइए जानते हैं कि वायु प्रदूषण की इस मार से बचने के लिए हमें क्या-क्या उपाय करने चाहिए।

​घर के अंदर रहें-

navbharat times

ऐसे समय जब हवा की गुणवत्ता बेहद खराब है , आपको घर के अंदर रहना चाहिए। बार-बार बाहर निकलने से बचें और आउटडोर वर्कआउट व एक्सरसाइज कम करें। बुजुर्ग लोग जो नियमित रूप से सुबह की सैर पर जाते हैं,उन्हें सावधान रहने की जरूरत है। कोशिश करें, कि बच्चे बाहर जाने के बजाए घर में ही एक्टिविटी को एन्जॉय करें।

​एयर प्यूरीफायर का इस्तेमाल करें

navbharat times

एयर प्यूरीफायर हवा को प्यूरीफाई करने का सबसे अच्छा तरीका है। जो लोग इसे खरीद सकते हैं, उनके लिए यह गंदी हवा के कणों को हटाने के लिए एक बेहतरीन विकल्प है। घर के अंदर की हवा बाहरी हवा की तरह नुकसानदायक हो सकती है। क्योंकि प्रदूषक बाहर से आपके घरों में आ सकते हैं। एयर प्यूरीफायर आपके घर में हवा को साफ और शु़द्ध करने में मदद करता है, जिससे आप स्वस्थ बने रहते हैं।

​बाहर निकलने पर मास्क जरूर पहनें

navbharat times

फेस मास्क सार्स कोव-2 वायरस से बचने के लिए सबसे अच्छे उपायों में से एक है। लेकिन आपको मास्क सिर्फ इसलिए ही नहीं पहनना है, बल्कि वायु प्रदूषण से बचने के लिए भी मास्क पहनने की जरूरत महसूस हो रही है। यह जहरीली हवा को दूर करने के साथ आपके फेफड़ों को हानिकारक प्रदूषकों से बचाता है। कहने को चुनने के लिए कई विकल्प हैं, लेकिन एन95 मास्क को प्रदूषण से बचाने में कारगार माना गया है।

​घर की हवा को शुद्ध करने वाले पौधे लगाएं

navbharat times

घर की हवा का शुद्ध होना भी उतना ही जरूरी है , जितनी बाहर की हवा का। एलोवेरा , एरिका पाम, आईवी , स्नेक प्लांट, बैंबू पाम, वार्नेक ड्रेकेना जैसे पौधे वायु प्रदूषण को शुद्ध करने के लिए जाने जाते हैं। ये न केवल सस्ते हैं, बल्कि पर्यावरण के लिए भी सहायक है।

​हेल्दी खाना भी है जरूरी

navbharat times

वायु प्रदूषण से बचने के लिए जरूरी है कि आप स्वस्थ और हेल्दी खाएं। कई खाद्य पदार्थ ऐसे हैं, जो श्वसन स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है। अपने आहार में भरपूर मात्रा में फल, सब्जियां, नट्स, बीन्स और हेल्दी फैट शामिल करें। इससे आपके शरीर को वायु प्रदूषण के नुकसानों से बचने में मदद मिलेगी। इसके अलावा हर समय हाइड्रेट रहना और फिजिकल एक्टिविटी करते रहना भी प्रदूषण से बचने के उपायों में से एक है।

अंग्रेजी में इस स्‍टोरी को पढ़ने के लिए यहां क्‍लिक करें



Source link

RELATED ARTICLES

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments