Guru Asta 2022: For 32 days people of these zodiacs should be careful there will be a stir in life – Astrology in Hindi


ग्रहों के राजा सूर्य 13 फरवरी को कुंभ राशि में गोचर कर चुके हैं। सूर्य के इस राशि में आते ही गुरु ग्रह की शक्तियां क्षीण हो जाएंगी।  सूर्य के प्रभाव से देवगुरु बृहस्पति 19 फरवरी को कुंभ राशि में अस्त हो जाएंगे, जो कि 20 मार्च 2022 तक इसी राशि में सामान्य अवस्था में वापस आ जाएंगे। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, 32 दिन तक गुरु अस्त के दौरान कुछ राशि वालों को सावधान रहने की जरूरत है।

गुरु अस्त टाइमिंग- 

गुरु 19 फरवरी 2022, शनिवार को सुबह 11 बजकर 13 मिनट पर कुंभ राशि में अस्त होंगे। 20 मार्च 2022, रविवार को सुबह 09 बजकर 35 मिनट तक इसी राशि में उदित होंगे।

राहु-केतु राशि परिवर्तन के दौरान इन राशियों के जातक रहें सावधान, जीवन में होंगे बड़े बदलाव

इन राशियों के जातक रहें सावधान-

मेष- मेष राशि के जातकों को इस दौरान सावधान रहने की जरूरत है। कार्यस्थल पर आपको कड़ी मेहनत करनी पड़ सकती है। काम के सिलसिले में जबरन यात्रा करनी पड़ सकती है।

वृषभ- इस राशि के जातकों को अपने प्रयासों में बाधाओं का सामना करना पड़ सकता है। कार्यस्थल पर चुनौतियां का सामना करना पड़ सकता है।

मिथुन- मिथुन राशि के जातकों को करियर में प्रगति मिल सकती है। हालांकि, इस दौरान आपको पार्टनरशिप के बिजनेस में कुछ समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। जिससे आपके व्यापार में प्रभाव पड़ेगा।

मंगल ग्रह का मकर राशि में होगा प्रवेश, इन 4 राशियों का जगेगा भाग्य

कर्क- इस अवधि में आपको कुछ कार्यों में बाधाओं का सामना करना पड़ सकता है। कार्यों को पूरा करने में ज्यादा समय लग सकता है।

सिंह- सिंह राशि वालों के अपने प्रियजनों या वरिष्ठों के साथ संबंध खराब हो सकते सकते हैं। आपकी छवि पर भी नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है।

कन्या- नौकरी-पेशा करने वाले जातकों पर काम का दवाब पड़ सकता है। नौकरी में बदलाव की संभावना है। व्यापारियों को नुकसान का सामना करना पड़ सकता है।

तुला- कार्यस्थल पर काम के मामले में सहजता बनी रहेगी। लेकिन इस दौरान आपके उच्चाधिकारियों संग रिश्ते खराब हो सकते हैं। खुद का व्यापार करने वाले जातकों को मन के मुताबिक परिणाम नहीं मिलेंगे।

वृश्चिक- गुरु अस्त की अवधि में आपको आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ सकता है। पेशेवर जीवन में कुछ समस्याएं आ सकती हैं, जैसे सहकर्मियों का साथ न मिलना आदि।

धनु- इस अवधि में आपको धीमी गति से परिणाम प्राप्त होंगे। नौकरी छूटने जैसी परिस्थितियों का सामना करना पड़ सकता है। कार्यस्थल पर मान-सम्मान को ठेस लग सकती है।

मकर- आपको गुरु अस्त की अवधि में पारिवारिक जीवन में समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। इस दौरान आपके वरिष्ठजनों से अनबन हो सकती है। संभव है कि पेशेवर जीवन में आपको जिस चीज की उम्मीद हो, वह न मिले।

14 मार्च तक कन्या और धनु समेत इन राशियों के लिए समय अच्छा, क्या शामिल है आपकी राशि?

कुंभ- कुंभ राशि वालों को असफलताओं का सामना करना पड़ सकता है। इस दौरान आपके पेशेवर जीवन में दिक्कतें आ सकती हैं। नौकरी में स्थान परिवर्तन संभव है।

मीन- मीन राशि वालों को गुरु अस्त के दौरान मानसिक दबाव का सामना करना पड़ सकता है। इस दौरान आपको लाभ-हानि की स्थिति बनी रहेगी। किसी नए व्यवसाय की शुरुआत के लिए समय अनुकूल नहीं है।

इस आलेख में दी गई जानकारियों पर हम यह दावा नहीं करते कि ये पूर्णतया सत्य एवं सटीक हैं। इन्हें अपनाने से पहले संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें। 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: