Tuesday, June 28, 2022
HomeNewsGarlic Roti Recipe: garlic roti recipe to reduce pregnancy weight and many...

Garlic Roti Recipe: garlic roti recipe to reduce pregnancy weight and many problems – इस मसाले की रोटी खाने से प्रेग्‍नेंसी में नहीं होगी कब्‍ज और डिलीवरी के बाद आसान होगा वेट लॉस


गर्भावस्‍था के दौरान और डिलीवरी के बाद भी महिलाओं को अपनी सेहत का बहुत ध्‍यान रखना पड़ता है। प्रेग्‍नेंसी में महिलाएं यूं ही नहीं कुछ भी खा सकती हैं बल्कि उन्‍हें आहार को लेकर बहुत सावधानी रखनी पड़ती है। प्रेग्‍नेंसी में मां और बच्‍चे दोनों के पोषण के लिए आहार जरूरी होता है। वहीं डिलीवरी के बाद शरीर को ताकत देने और शिशु के पोषण के लिए ब्रेस्‍ट मिल्‍क बनाने के लिए पोषक तत्‍वों से युक्‍त आहार लेने की जरूरत होती है। आपके लिए यह काम गार्लिक रोटी भी कर सकती है।

जी हां, आप प्रेग्‍नेंसी में गार्लिक रोटी की मदद से अपनी कब्‍ज की समस्‍या को दूर कर सकती हैं और डिलीवरी के बाद अपनी डाइट में गार्लिक रोटी को शामिल कर वजन कम करने में भी मदद मिलती है। इस तरह गार्लिक रोटी आपको पूरी प्रेग्‍नेंसी के साथ-साथ प्रसव के बाद भी लाभ पहुंचाती है।यहां हम आपको गार्लिक रोटी बनाने के तरीके के बारे में बता रहे हैं। इस रोटी में 3 हेल्‍दी आटे को शामिल किया गया है जैसे कि ज्‍वार का आटा, बाजरे का आटा और गेहूं का आटा। तो चलिए जानते हैं कि किस तरह गार्लिक रोटी बनाई जाती है।

​किन चीजों की जरूरत है

navbharat times

गार्लिक रोटी बनाने के लिए आपको चाहिए 1/4 कप ज्‍चार का आटा, 1/4 कप बाजरे का आटा, 1/4 कप गेहूं का आटा, 1/4 कप बारीक कटा हुआ हरा लहसुन, 1 चम्‍मच कटा हुआ धनिया और 1/8 चम्‍मच नमक। रोटी बनाने के लिए गेहूं का आटा और 1 1/4 चम्‍मच तेल भी चाहिए।

फोटो साभार : TOI

​गार्लिक रोटी बनाने का तरीका

navbharat times

गार्लिक रोटी बनाने की विधि है :

  • सबसे पहले आप एक गहरे बर्तन में सभी चीजों को डालकर मिक्‍स कर लें और नरम आटा गूंंथ लें।
  • अब इसे 5 बराबर भागों में बांट दें।
  • इससे लोई बनाकर रोटी तैयार कर लें।
  • अब इस रोटी को तवे पर डालकर दोनों तरफ तेल लगाकर सेक लें।
  • इस तरह से 3 से 4 रोटियां बना लें।

फोटो साभार : TOI

​ग्रीन गार्लिक रोटी के फायदे

navbharat times

यह रोटी वजन कम करने में मदद कर सकती है। यह फाइबर से भरपूर होती है जिससे डिलीवरी के बाद होने वाली कब्‍ज की समस्‍या से बचा जा सकता है। गार्लिक रोटी हार्ट और डायबिटीज के मरीजों के लिए भी फायदेमंद है और इसे बच्‍चे एवं गर्भवती महिलाएं भी खा सकती हैं।

फोटो साभार : TOI

​इम्‍यूनिटी बढ़ती है

navbharat times

हरे लहसुन में एलिसिन नामक तत्‍व होता है जो इम्‍यूनिटी को बढ़ाने और बीमारियों से लड़ने में मदद करता है। इसमें तीन तरह का आटा लिया गया है जो कि मैग्‍नीशियम का अच्‍छा स्रोत है। इससे दिल की धड़कन कंट्रोल होती है।

फोटो साभार : TOI

​गार्लिक रोटी में मौजूद पोषक तत्‍व

navbharat times

इसकी एक रोटी में 67 कैलोरी, 1.9 ग्राम प्रोटीन, 11.4 ग्राम कार्बोहाइड्रेट, 1.8 ग्राम फाइबर, 1.7 ग्राम फैट, 0 मि.ग्रा कोलेस्‍ट्रॉल और 80 मिलीग्राम सोडियम होता है।

फोटो साभार : TOI



Source link

RELATED ARTICLES

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments