Thursday, June 30, 2022
HomeHealth Newsduring covid 4th wave india records 12,213 corona cases in 24 hours,...

during covid 4th wave india records 12,213 corona cases in 24 hours, scientists found a weird symptom of covid in the body – COVID 4th wave: देश में एक दिन में 12213 लोगों को कोरोना, हाथ-पैरों में दिख रहे इस अजीब लक्षण से उड़े मरीजों के होश


भारत में कोरोना वायरस महामारी (Coronavirus pandemic) ने एक बार फिर तबाही मचानी शुरू कर दी है। देश में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 12,213 नए मामले सामने आए हैं। इसे कोरोना की चौथी लहर (Covid 4th wave) के रूप में देखा जा रहा है। ध्यान रहे कि पिछले कुछ दिनों से यह आंकड़ा 8 हजार के आसपास बना हुआ था। इसका मतलब है कि पिछले एक दिन में 4 हजार नए मामले बढ़े हैं। यानी नए मामले 38.43 प्रतिशत की रफ्तार से बढ़े हैं। इसी के साथ देश में कुल एक्टिव मामले बढ़कर 58,215 हो गए हैं। चिंता के बात यह है कि पिछले एक हफ्ते में इतने मामले बढ़े हैं। देश में कोरोना से मरने वालों की संख्या बढ़कर 5,24,803 हो गई है।

ओमीक्रोन (Omicron) जैसे कोरोना के वेरिएंट बदलने से इसके लक्षण और इसके दुष्प्रभाव भी तेजी से बदले हैं। कोरोना अब सिर्फ फेफड़ों पर आक्रमण नहीं कर रहा है बल्कि यह शरीर के किसी भी हिस्से या अंग को प्रभावित कर सकता है। सामान्य सर्दी के लक्षणों और बीमारी से अलग अन्य लक्षणों के अलावा, कुछ अन्य लक्षण भी हैं जो कोरोना के मरीजों में देखे जा रहे हैं। कोविड से जुड़ा ऐसा ही एक अजीब लक्षण शरीर में झुनझुनी या सनसनी (sensation) होना है।

मरीजों को महसूस हो रही है अजीब सुन्नता

navbharat times

कोरोना के मरीजों को शरीर में एक अजीब तरह की उत्तेजना या सुन्नता जिसे सनसनी भी कहा जाता है, महसूस हो रही है। मेडिकल भाषा में इसे पेरेस्टेसिया कहते हैं। इसमें रोगी को हाथ, कोहनी, पैर या तलवे और यहां तक कि शरीर के अन्य हिस्सों में भी जलन या चुभन का अनुभव होता है।

दर्द के बिना प्रकट हो रहा लक्षण

navbharat times

इस तरह की संवेदना दर्द रहित होती है, लेकिन इससे आपका रोजाना कामकाज प्रभावित हो सकता है। 1,500 से अधिक लोगों के एक अध्ययन में अधिकतर लोगों में यह लक्षण पाया गया है। ऐसा माना जाता है कि संक्रमण शरीर की नसों को प्रभावित करता है जिसकी वजह से ऐसा हो सकता है।

यह लक्षण कितने समय तक रहता है?

navbharat times

इसके लक्षण कुछ हफ्तों तक चलते हैं। कुछ मामलों में रोगी 3 महीने से अधिक समय तक इस दर्द का अनुभव करते हैं। वाशिंगटन यूनिवर्सिटी पेन सेंटर के एक अध्ययन में पाया गया कि उसके लगभग 30% कोरोना रोगियों ने इस लक्षण की सूचना दी और उनमें से लगभग 6% ने इसे 3 महीने तक अनुभव किया।

आपको डॉक्टर से कब जाना चाहिए?

navbharat times

शरीर में झुनझुनी सनसनी जैसी स्वास्थ्य संबंधी मामूली समस्याएं कुछ ही दिनों में कम हो सकती हैं। हमने अक्सर देखा है कि लंबे समय तक बैठने के बाद हमारे पैर कैसे सुन्न हो जाते हैं और थोड़ी सेर बाद ठीक हो जाती है। यदि सनसनी कई दिनों तक बनी रहती है, तो अपने डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

डिस्क्लेमर: यह लेख केवल सामान्य जानकारी के लिए है। यह किसी भी तरह से किसी दवा या इलाज का विकल्प नहीं हो सकता। ज्यादा जानकारी के लिए हमेशा अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

अंग्रेजी में इस स्‍टोरी को पढ़ने के लिए यहां क्‍लिक करें



Source link

RELATED ARTICLES

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments