Bajaj Finance share: एक दिन में 669 रुपये चढ़ गया बजाज फाइनेंस का शेयर, मार्केट कैप में LIC को पीछे छोड़ा – bajaj finance share jumps 11 percent overtake lic in market cap


नई दिल्ली: बजाज ग्रुप (Bajaj Group) की कंपनी बजाज फाइनेंस (Bajaj Finance) के शेयर में गुरुवार को करीब 11 फीसदी की तेजी आई। चालू वित्त वर्ष की जून तिमाही में रेकॉर्ड प्रॉफिट के बाद कंपनी के शेयर में उछाल आया। बजाज फाइनेंस का शेयर बीएसई में 10.68 प्रतिशत चढ़कर 7,076.30 रुपये पर बंद हुआ। दिन के कारोबार के दौरान यह 11.15 प्रतिशत तक चढ़ गया था। वहीं, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज में कंपनी का शेयर 10.46 प्रतिशत यानी 669 रुपये बढ़कर 7,065.50 रुपये पर बंद हुआ। पिछले दो दिन के दौरान बीएसई में कंपनी का बाजार मूल्यांकन 49,430.89 करोड़ रुपये बढ़कर 4,28,419.89 करोड़ रुपये हो गया है।

इसके साथ ही बजाज फाइनेंस मार्केट कैप के हिसाब से देश की आठवीं सबसे बड़ी कंपनी बन गई है। उसने देश की सबसे बड़ी इंश्योरेंस कंपनी एलआईसी (LIC) को भी पीछे छोड़ दिया है। बजाज फाइनेंस ने बुधवार को अपना जून तिमाही का रिजल्ट जारी किया। इस दौरान कंपनी का प्रॉफिट 159 फीसदी बढ़कर 2,596 करोड़ रुपये पहुंच गया। पिछले साल समान तिमाही में यह 1002 करोड़ रुपये रहा था। जानकारों का कहना है कि कंपनी का शेयर 7,600 रुपये तक जा सकता है।

navbharat times

LIC Share News : एलआईसी के शेयर को इस ब्रोकरेज फर्म से मिली ‘बाय’ रेटिंग, जानिए कितना हो सकता है आपको मुनाफा
बजाज फिनसर्व भी पीछे नहीं
इसके अलावा, बजाज फिनसर्व (Bajaj Finserv) का शेयर भी बीएसई में 10.14 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 14,652.30 रुपये पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान यह 11.08 प्रतिशत तक चढ़ गया था। एनएसई में भी कंपनी का शेयर 10.09 प्रतिशत बढ़कर 14,650 रुपये पर बंद हुआ। इसके साथ बजाज फिनसर्व का बीएसई में बाजार मूल्यांकन 21,681.19 करोड़ रुपये बढ़कर 2,33,383.19 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। जानकारों का कहना है कि कंपनी का शेयर 15,400 रुपये के स्तर तक पहुंच सकता है।

navbharat timesLIC Share Price : एलआईसी निवेशकों के लिए खुशखबरी! शेयर में आने वाली है बंपर तेजी, जानिए क्या कह रही यह ब्रोकरेज फर्म
एलआईसी ने गंवाए 1.21 लाख करोड़
एलआईसी 426,842.47 करोड़ रुपये के मार्केट कैप के साथ नौवें नंबर पर खिसक गई है। मई में लिस्ट होने के बाद कंपनी का मार्केट कैप 1.21 लाख रुपये गिर चुका है। एलआईसी जब लिस्ट हुई थी तो यह देश की छठी मूल्यवान कंपनी थी लेकिन शेयरों में लगातार गिरावट से यह अब नौवें नंबर पर खिसक गई है। कंपनी का इश्यू प्राइस 949 रुपये था जो अब 674.85 रुपये रह गया है। यह इस साल लिस्ट हुए स्टॉक्स में सबसे खराब प्रदर्शन करने वाले टॉप तीन शेयरों में शामिल है। एलआईसी की पूरे इक्विटी मार्केट में चार फीसदी और बॉन्ड मार्केट में दो फीसदी हिस्सेदारी है। इसलिए जब भी मार्केट या बॉन्ड यील्ड्स में बदलाव होता है तो इसका एलआईसी पर असर पड़ता है।



Source link

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: