Ayurveda डॉ. द्वारा बताए इन 5 तरीकों से खाएं काली मिर्च, डायबिटीज-कोलेस्ट्रॉल जैसे 22 रोग होने लगेंगे खत्म – according to ayurveda doctor dixa bhavsar include black pepper in your diet to fight cholesterol diabetes and other 22 disease


अगली बार जब खाते समय आपके मुंह में काली मिर्च (Black Pepper) आ जाए, तो उसे निकालकर फेंकने की गलती मत करना। स्वाद में कड़वा यह मसाला स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद है। काली मिर्च अपने बायोएक्टिव यौगिकों के कारण स्वास्थ्य लाभ प्रदान करती है, जिसमें पिपेरिन (Piperine) सबसे महत्वपूर्ण है। पिपेरिन एक नैचुरल अल्कलॉइड है, जो काली मिर्च को उसका तीखा स्वाद देता है।

काली मिर्च के फायदे क्या हैं? पिपेरिन इस मसाले की सबसे बड़ी ताकत भी है। पिपेरिन को एक प्रकार का एंटीऑक्सिडेंट माना जाता है जो एथेरोस्क्लेरोसिस, हार्ट डिजीज और न्यूरोलॉजिकल रोगों के जोखिम को कम करने में मदद करता है।

काली मिर्च के पोषक तत्व और गुण? इसके अलावा काली मिर्च मैंगनीज का एक बढ़िया स्रोत है। यह एक ऐसा मिनरल है, जो हड्डियों के स्वास्थ्य, घाव भरने और चयापचय में मदद कर सकता है। इसके अलावा इसमें विटामिन ई, विटामिन के, विटामिन बी6, थायमीन, नियासिन, एंटीऑक्सीडेंट्स और एंटीबैक्टीरियल जैसे गुण पाए जाते हैं।

आयुर्वेद में काली मिर्च के फायदे

93793474

आयुर्वेद में भी काली मिर्च को एक शक्तिशाली मसाला और जड़ी बूटी माना गया है। आयुर्वेद डॉक्टर दीक्षा भावसार के अनुसार, काली मिर्च को आयुर्वेद में मरीच के नाम से जाना जाता है। काली मिर्च एक मजबूत और तीखा मसाला है। यह गर्म शक्ति में, पचने में लघ्र और वात और कफ को संतुलित करता है।

22 बीमारियों की एक दवा है काली मिर्च

22-
  • एनोरेक्सिया यानी स्वाद में करती है सुधार
  • खांसी, जुकाम के लिए बढ़िया उपाय
  • इम्यूनिटी बढ़ाने में सहायक
  • जोड़ों और आंत में सूजन को कम करने में सहायक
  • सूजन और अतिरिक्त वात विकारों से राहत देता है
  • विषाक्त पदार्थों को खत्म करता है खत्म
  • पाचन में करता है सुधार
  • ओरल हेल्थ को बढ़ावा देता है
  • एलर्जी और साइनसिसिस के लिए अद्भुत दवा
  • ब्लड सर्कुलेशन में करता है सुधार
  • मोटापा कम करने में सहायक
  • लीवर और हार्ट के लिए बढ़िया विकल्प (कोलेस्ट्रॉल, डायबिटीज और ब्लड प्रेशर को करता है मैनेज)
  • अल्जाइमर और समग्र मस्तिष्क स्वास्थ्य में मदद करता है
  • रूसी/फंगल के कारण बालों के झड़ने में उपयोगी
  • स्मोकिंग की लत से छुटकारा दिलाने में सहायक
  • कैंसर को रोकने और यहां तक कि लड़ने में करता है मदद

काली मिर्च में छिपे हैं सेहत के बड़े राज

काली मिर्च का सेवन कैसे करें

93793470

अगर आप ऊपर बताए रोगों से परेशान हैं या राहत पाना चाहते हैं, तो आपको रोजाना सिर्फ एक काली मिर्च का सेवन करना चाहिए। इसे आप पानी के साथ चबा सकते हैं या खाने में इस्तेमाल कर सकते हैं।

सुबह खाली पेट चबाएं खाली मिर्च

93793469

ज्यादा लाभ लेने के लिए आप रोजाना सुबह खाली पेट एक काली मिर्च को चबाकर खा सकते हैं। इससे आपको हार्मोनल बैलेंस, डायबिटीज, एमेनोरिया, पीरियड्स में देरी जैसे विकारों में लाभ मिलेगा।

शहद के साथ खाएं

93793467

काली मिर्च और शहद के फायदे भी कई हैं। इम्यूनिटी सिस्टम मजबूत बनाने और श्वसन संबंधी समस्याओं से राहत पाने के लिए आपको 1 चम्मच हल्दी और शहद के साथ लेना चाहिए।

दूध या घी के साथ काली मिर्च

93793465

अच्छी नींद, रोग प्रतिरोधक क्षमता और गठिया (जोड़ों के दर्द से राहत) के लिए रात को सोते समय दूध में एक चुटकी सोंठ का चूर्ण मिलाकर ले सकते हैं। मानसिक स्वास्थ्य में सुधार के लिए सोते समय 1 चम्मच देसी गाय के घी के साथ लिया जा सकता है।

डिस्क्लेमर: यह लेख केवल सामान्य जानकारी के लिए है। यह किसी भी तरह से किसी दवा या इलाज का विकल्प नहीं हो सकता। ज्यादा जानकारी के लिए हमेशा अपने डॉक्टर से संपर्क करें।





Source link

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: