योग बुढ़ापे पर ब्रेक लगाता है 
March 11, 2019 • Editor Awazehindtimes

तनाव कम होता है, बीमारियां नहीं होतीं और व्यक्ति उम्र बढ़ने के बाद भी बूढ़ा नहीं होता

क्या होता है योग से उम्र बढ़ने के साथ शरीर में बायलॉजिकल बदलाव होते हैं। इससे इंसान में बीमारियां बढ़ती हैं। वह बूढ़ा होने लगता है।
क्यों आता है बुढ़ापा 96 लोगों पर स्टडी के बाद एम्स का निष्कर्ष स्वस्थ इंसान को बुढ़ापा जल्दी नहीं आता


नई दिल्ली : योग बूढ़ा नहीं होने देता। एम्स की स्टडी कुछ ऐसे ही निष्कर्ष पर पूरी हुई है। अगर आप योग करते हैं तो उम्र बढ़ने के बावजूद भी आपका शरीर और मन बूढ़ा नहीं होगा। एम्स ने 96 स्वस्थ्य लोगों पर अपनी स्टडी कर इसे साबित किया है।

एम्स में एनटॉमी डिपार्टमेंट की डॉक्टर रीमा दादा ने कहा कि यह साबित हो गया है कि योग से बुढ़ापे को कम किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि उम्र बढ़ने के साथ शरीर में जो बायलॉजिकल बदलाव होता है, उससे इंसान में बीमारियां बढ़ती हैं। वह बूढ़ा होने लगता है। योग शरीर में होने वाले उसी बायलॉजिकल बदलाव को रोक देता है। बीमारियां नहीं होतीं और व्यक्ति उम्र बढ़ने के बाद भी बूढ़ा नहीं होता। डॉक्टर रीमा ने कहा कि जल्दी बूढ़ा होने की सबसे बड़ी वजह लाइफस्टाइल है। डीएनए के अंदर TeLomere होता है। यह समय के साथ छोटा होता जाता है। इसके छोटे होने से बुढ़ापा आता है।

स्टडी में 96 लोगों को शामिल किया गया था और पहले उनकी जांच की गई। जांच में डीएन डैमेज मार्कर, स्ट्रेस मार्कर, एंटीबॉक्सीडेंट क्षमता और टेलोमेयर मार्कर देखे गए। 12 हफ्ते तक लोगों को योग कराया गया और फिर से उनकी जांच की गई। पता चला कि उम्र बढ़ने की सभी वजहें कम हो गईं। डॉक्टर ने कहा कि डीएनए को डैमेज करने में स्ट्रेस एक महत्वपूर्ण कारण होता है। योग के बाद उसमें कमी आई। डीएनए डैमेज करने वाले मार्कर कम हो गए। वहीं, टेलोमेयर की लंबाई बढ़ गई। BDNF भी बढ़ गया, इससे सोचने-समझने की क्षमता बढ़ जाती है। डॉक्टर रीमा ने कहा कि जब उम्र बढ़ती है तो ब्लड प्रेशर और भूलने की बीमारी होने लगती है, योग उसे भी कम करता है। इससे इंसान स्वस्थ रहता है। स्वस्थ इंसान को बुढ़ापा जल्दी नहीं आता।