सुरक्षा की दृष्टि से बाधित रहेंगे कुछ मार्ग : फुल ड्रेस रिहर्सल 
January 23, 2019 • Editor Awazehindtimes

जाम से बचाएगा गुगल

नई दिल्ली। ट्रैफिक पुलिस अधिकारी की माने तो ट्रैफिक पुलिस ने गूगल के साथ भी संपर्क साधा है। उनसे कहा है कि वे रियल टाइम ट्रैफिक के हालात दिखाएं। साथ ही गूगल मैप पर वैकल्पिक मार्ग भी बताएं। ताकि लोगों को दिक्कतें न हों।

गणतंत्र दिवस के दौरान सुरक्षा बंदोबस्त का जायजा लेने के लिए 23 जनवरी को फुल ड्रेस रिहर्सल की जाएगी। ताकि कहीं कोई कमी हो तो उसे पूरा कर लिया जाए। फुल ड्रेस रिहर्सल के दौरान सुरक्षा की दृष्टि से और परेड रूट बाधित न हो इसके लिए कई मुख्य मार्गों पर फेरबदल किया गया है। ज्वाइंट सीपी ट्रैफिक पुलिस आलोक कुमार ने आम लोगों को परेड रूट से पूरी तरह बचने की सलाह दी है। ताकि उन्हें किसी तरह की परेशानी न हो। इसके अलावा यातायात व्यवस्था को बनाए रखने के लिए करीब ढाई हजार ट्रैफिकर्मियों को सड़कों पर तैनात रहेंगे। आलोक कुमार ने बताया कि सोशल मीडिया और एसएमएस अलर्ट सर्विस के जरिए भी ट्रैफिक पुलिस लोगों को प्रभावित मार्गों की जानकारी देगी। ताकि वे उन मार्गों से बचकर वैकल्पिक मार्गों का इस्तेमाल कर सकें।

इन मार्गों से बचें... फुल ड्रेस रिहर्सल परेड सुबह 9:50 बजे विजय चौक से शुरू होगी और राजपथ, इंडिया गेट-सी हैक्सागन मार्ग, तिलक मार्ग, बहादुरशाह जफर मार्ग और नेताजी सुभाष मार्ग से होते हुए लाल किले पर समाप्त होगी। इसके लिए एक दिन पहले ही इन सभी मार्गों पर ट्रैफिक के आवागमन को बंद कर दिया जाएगा। परेड खत्म होने तक विजय चौक से इंडिया गेट की तरफ जाने वाले ट्रैफिक को बंद कर दिया जाएगा। इसी तरह से राजपथ पर 22 जनवरी की रात 11 बजे से रफी मार्ग, जनपथ और मानसिंह रोड भी ट्रैफिक के लिए बंद रहेगा।

परेड में 11 साल बाद दिखेगी सीआईएसएफ गणतंत्र दिवस की परेड के दौरान 11 साल बाद सीआईएसएफ का महत्व बताते हुए झांकी को शामिल किया गया है। झांकी में जहां सबसे आगे महात्मा गांधी की समाधि पर सीआईएसएफ का पहरा दिखाया जाएगा, तो वहीं समाधि के ठीक पीछे झांकी के बीच में अन्य महत्वपूर्ण स्थानों पर सीआईएसएफ की तैनाती दिखाई जाएगी। इस झांकी के जरिए सीआईएसएफ की कार्यशैली व कार्यकुशलता को समझने में मदद मिलेगी। सीआईएसएफ पीआरओ हेमेंद्र सिंह की तरफ से बताया गया कि गणतंत्र दिवस के अवसर पर 11 साल बाद दोबारा सीआईएसएफ की झांकी देखने को मिलेगी।