200 बेड  मिले राजीव गांधी अस्पताल को
January 22, 2019 • एडिटर आवाज़े हिन्द टाइम्स

स्वास्थ्य मंत्री ने की शुरुआत कैथलैब, एक्सरे, सीटी स्कैन सुविधा, स्टाफ नियुक्त होगा, दिल्ली सरकार जल्द ही स्पेशियलिटी अस्पताल
को स्वायत्तता देने जा रही

नई दिल्ली। पूर्वी दिल्ली के ताहिरपुर स्थित राजीव गांधी सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल में उपचार कराना अब और आसान होगा। दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने मंगलवार को इस अस्पताल में मरीजों के लिए 200 अतिरिक्त बिस्तरों की सुविधा शुरू की। अब यहां 850 बेड उपलब्ध होंगे। जैन ने एक्सरे, सीटी स्कैन के अलावा कैथलैब का उद्घाटन भी किया। कैथ लैब से दिल के मरीजों को एंजियोग्राफी, एंजियोप्लास्टी और बाईपास सर्जरी तक की सुविधा मिलेगी।

अब तक दिल्ली सरकार के जीबी पंत सुपर स्पेशियलिटी जैसे चुनींदा अस्पतालों में ही कैथलैब है। यहां स्टाफ की कमी दूर करने के लिए नई नियुक्तियों को सरकार से मंजूरी मिल गई हैस्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि यह अस्पताल दिल्ली के शीर्ष अस्पतालों में है, जबकि राष्ट्रीय स्तर पर टॉप 10 में यहां मेडिटेशन, योग, डांस, फिजियोथैरेपी आदि सुविधाएं देने के लिए प्रबंधन से प्रस्ताव मांगा गया है। ये सुविधाएं डॉक्टरों को ही नहीं, बल्कि पैरामेडिकल स्टाफ और मरीजों को भी मिलनी चाहिए, बड़े-बड़े चिकित्सीय संस्थान अक्सर सरकारी चंगुल की वजह से विकसित नहीं हो पाते।

इसलिए दिल्ली सरकार जल्द ही राजीव गांधी सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल को स्वायत्तता देने जा रही है। इस अस्पताल में रुमेटोलॉजी, नेफ्रोलॉजी, यूरोलॉजी, गैस्ट्रो और कार्डियोवस्कुलर जैसी सुविधाएं मौजूद हैं। निदेशक डॉ. बीएल शेरवाल ने कहा कि डॉक्टर यहा चिकित्सीय शोध पर भी फोकस कर रहे हैं।