हिरोशिमा पर एटम बम हमले की 77वीं बरसी, यूएन चीफ की चेतावनी- ‘भरी हुई बंदूक से खेल रही है मानवता’


हाइलाइट्स

हिरोशिमा पर एटम बम हमले की 77वीं बरसी
यूएन चीफ की चेतावनी- ‘भरी हुई बंदूक से खेल रही है मानवता’
6 अगस्त, 1945 को हिरोशिमा के ऊपर अमेरिका ने गिराया था एटम बम

हिरोशिमा. हिरोशिमा पर अमेरिका के एटम बम हमले की आज शनिवार को 77वीं बरसी है. इस मौके पर शहर में ग्राउंड जीरो के पास पीस मेमोरियल पार्क में वार्षिक समारोह आयोजित किया गया. इसमें संयुक्त राष्ट्र प्रमुख संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने भी हिस्सा लिया. इससे पहले बान की-मून 2010 में हिरोशिमा में एटम बम के हमले की बरसी पर आयोजित कार्यक्रम में शामिल हुए थे. 6 अगस्त, 1945 को हिरोशिमा के ऊपर अमेरिकी बमवर्षक से एटम बम गिराया था, जिसमें एक अनुमान के हिसाब से 140,000 लोग मारे गए थे.

न्यूज एजेंसी एएनआई की एक खबर के मुताबिक आज के कार्यक्रम में 98 देशों और यूरोपीय संघ के प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया. जबकि यूक्रेन पर हमला करने वाले रूस और उसके मददगार बेलारूस को आमंत्रित नहीं किया गया था. इस मौके पर संयुक्त राष्ट्र के प्रमुख एंटोनियो गुटेरेस ने कहा कि ‘मानवता एक भरी हुई बंदूक से खेल रही है.’ क्योंकि दुनिया भर में परमाणु संकट और फैलने की आशंका बढ़ती जा रही है. गुटेरेस ने यूक्रेन, मध्य पूर्व और कोरियाई प्रायद्वीप में मौजूदा संकट से पैदा होने वाले परमाणु जोखिम के बढ़ने की चेतावनी दी.

गुटेरेस ने हिरोशिमा द्वारा सहन की गई भयावहता का भी उल्लेख किया. उन्होंने कहा कि ‘इस शहर में पलक झपकते ही हजारों लोग मारे गए. महिलाओं, बच्चों और पुरुषों की मौत नारकीय आग में जलने से हो गई. बचे लोगों को कैंसर और अन्य स्वास्थ्य समस्याओं का सामना करना पड़ा.’ गुटेरेस ने कहा कि ‘हमें पूछना चाहिए कि इस शहर के ऊपर गिरने वाले एटम बम के बाद से हमने क्या सीखा है?’

परमाणु बम गिराने के लिए अमेरिका ने हिरोशिमा और नागासाकी को ही क्यों चुना

गौरतलब है कि 6 अगस्त, 1945 को अमेरिका ने हिरोशिमा पर परमाणु बम गिराया था. जिसमें लगभग 140,000 लोग मारे गए. इसमें वे लोग शामिल हैं जो एटम बम के हमले के बाद फैले विकिरण से हुए रोगों के कारण मारे गए थे. हिरोशिमा पर बमबारी के तीन दिन बाद अमेरिका ने जापान के बंदरगाह शहर नागासाकी पर एक और एटम बम गिराया. जिसमें लगभग 74, 000 लोग मारे गए. इसके साथ ही द्वितीय विश्व युद्ध की समाप्ति हुई.

Tags: Hiroshima


hindi.news18.com

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: