रात में पैर सुन्न होने का क्या कारण है? बार-बार हो रही ये परेशानी, तो हो जाएं सावधान – why do i get pins and needles through the night here are the 4 possible medical condition


सोते वक्त हाथ पैर का सुन्न या झुनझुनी से भर जाना आमतौर पर दर्द रहित हो सकता है। ऐसा होने पर यह महसूस होता है कि हाथ पैरो में बहुत सारी चींटियां रेंग रही हों या कोई सुई या पिन चुभा रहा हो। ऐसा पीठ की समस्याओं या आसपास के ऊतकों के मोटे होने जैसी शारीरिक समस्याओं के कारण तंत्रिका पर पड़ने वाले दबाव का नतीजा भी हो सकता है। यह दिन हो या रात किसी भी समय हो सकता है।

हाथ पैर सुन्न होना कौन सी बीमारी है? एनआईएच के अनुसार, इस पिन और सुई की सनसनी को मेडिकल भाषा में पेरेस्टेसिया के रूप में जाना जाता है। ज्यादातर समय, कारण सरल होता है। यह तब हो सकता है जब आप अपनी बांह पर लेट गए हों या अन्यथा उस पर दबाव डाला हो। यह रक्त को नसों में सही ढंग से बहने से रुकावट का नतीजा होता है।

हाथ-पैरों का सुन्न होना कोई असामान्य एहसास नहीं है। ज्यादातर लोग इसे कभी न कभी अनुभव करते हैं। हालांकि, सनसनी अप्रत्याशित अवधि के लिए बनी रह सकती है या अन्य लक्षणों के साथ हो सकती है। अगर ऐसा होता है, तो आपको अपने डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए। यह सनसनी शरीर में अंदरूनी रूप से पल रही किसी रोग का संकेतक हो सकती है।

​विटामिन बी की कमी से हाथ-पैर पड़ जाते हैं सुन्न

94182984

एनसीबीआई में प्रकाशित एक रिपोर्ट के अनुसार, विटामिन बी की कमी से शरीर में झुनझुनी या सुन्नता का अनुभव होता है। विटामिन बी कई प्रकार के होते हैं, और ये सभी कोशिका के स्वास्थ्य को बनाए रखने और आपको ऊर्जावान बनाए रखने में मदद करते हैं। हालांकि बहुत से लोगों को अपने आहार के माध्यम से पर्याप्त बी विटामिन मिल जाता हैं, लेकिन कुछ लोगों को उनकी अनुशंसित दैनिक मात्रा को पूरा करने के लिए पूरक आहार लेने की भी आवश्यकता हो सकती है।

​बॉडी में पानी की मात्रा ज्यादा होना

94182957

बॉडी में पानी जमा कई चीजों के कारण हो सकता है, जिसमें उच्च नमक का सेवन और मासिक धर्म के दौरान हार्मोन के स्तर में उतार-चढ़ाव शामिल है। इससे पूरे शरीर में सूजन हो सकती है या यह शरीर के कुछ हिस्सों में जमा भी हो सकती है। जिससे यह कभी-कभी सूजन परिसंचरण को बाधित कर सकती है और प्रभावित क्षेत्र में झुनझुनी सनसनी पैदा कर सकती है।

​कार्पल टनल सिंड्रोम

94182941

कार्पल टनल सिंड्रोम के कारण हाथ-पैरों में सुन्नपन या झुनझुनी हो सकती है। यह तब होता है जब माध्यिका तंत्रिका संकुचित या पिंच होती है। एक ही गति को बार-बार करना, जैसे कि कीबोर्ड पर टाइप करना या मशीनरी के साथ काम करना, इसे ट्रिगर कर सकता है।

​पेरीफेरल न्यूरोपैथी

94182937

यदि आपको मधुमेह है और आप नियमित रूप से पेरेस्टेसिया का अनुभव कर रहे हैं, तो यह तंत्रिका क्षति के कारण हो सकता है। इस क्षति को परिधीय न्यूरोपैथी कहा जाता है, और यह लगातार हाई ब्लड शुगर रहने के कारण होता है।

​नर्व सिस्टम में किसी गड़बड़ी का है संकेत

94182922

केंद्रीय तंत्रिका तंत्र को प्रभावित करने वाली स्थितियां, जैसे मल्टीपल स्केलेरोसिस और स्ट्रोक, भी पेरेस्टेसिया का कारण बन सकती हैं। मस्तिष्क या रीढ़ में स्थित ट्यूमर, भी इसे ट्रिगर कर सकते हैं।

डिस्क्लेमर: यह लेख केवल सामान्य जानकारी के लिए है। यह किसी भी तरह से किसी दवा या इलाज का विकल्प नहीं हो सकता। ज्यादा जानकारी के लिए हमेशा अपने डॉक्टर से संपर्क करें।



Source link

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: