प्रधानमंत्री ने राष्ट्रीय बाल पुरस्कार विजेताओं के साथ बातचीत की

नई दिल्ली, विशेष संवाददाता, दिनांक 24 JAN 2020, प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने आज राष्ट्रीय बाल पुरस्कार विजेताओं के साथ बातचीत की। राष्‍ट्रपति ने 22 जनवरी 2020 को ये पुरस्कार प्रदान किए। पुरस्कार विजेता गणतंत्र दिवस परेड में भी भाग लेंगे।

7MMyXCIPIRofk2aKZzl6uj guMNidlMs5zFhsGIECpjHlRPIW4W3Q BaXk1sVWQOA3YslXOJW1wX0U99g

भारत के विभिन्न राज्यों के 49 बच्‍चों को ये पुरस्कार प्रदान किए गए हैं। इनमें जम्मू-कश्मीर, मणिपुर और अरुणाचल प्रदेश का एक-एक पुरस्‍कार विजेता है। ये बच्चे कला और संस्कृति, नवाचार, शिक्षा, समाज सेवा, खेल और बहादुरी के क्षेत्र में विजेता बने हैं।

भारत सरकार बच्चों को राष्ट्र-निर्माण में एक सबसे महत्वपूर्ण भागीदार के रूप में स्‍वीकार करती है। इस उद्देश्‍य के लिए सरकार नवाचार, शैक्षिक उपलब्धियों, समाज सेवा, कला और संस्कृति, खेल और बहादुरी के क्षेत्रों में असाधारण उपलब्धियों को पहचान देने के लिए हर साल ये पुरस्‍कार प्रदान करती है।

थोड़ी देर पहले आप सभी का परिचय जब हो रहा था, तो मैं सच में हैरान था। इतनी कम आयु में जिस प्रकार आप सभी ने अलग-अलग क्षेत्रों में जो प्रयास किए, जो काम किया है, वो अदभुत है:

Yf0Vv94UEyUlT37BV4p9 Gf3J9L8hhmYiWqF6UEawOjBeYYwB8EcLwW7sMyUiHCgjZBHsnnc5gggDqroSQ

इन बच्चों की विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट उपलब्धियों की प्रशंसा करते हुए, प्रधानमंत्री ने इतनी कम उम्र में इनके किए गए कार्य को अद्भुत बताया। उन्होंने कहा, “आप जिस तरह समाज और राष्ट्र के प्रति अपने कर्तव्यों को पूरा कर रहे हैं उस तरीके को देखकर मुझे गर्व हो रहा है।

DR8Rf3b8mBh Eln EbXm5F46aI50G4Ri0 vV5cmp7XmLG6TYWR rFiBH5G5SApNgOGHYXpc0nSxTNTq Mw

जब मैं अपने युवा साथियों की बहादुरी और उपलब्धियों की कहानी सुनता हूं तो उससे मुझे अतिरिक्त ऊर्जा मिलती और कड़ी मेहनत करने की प्रेरणा भी मिलती है’’।

 

प्रधान मंत्री ने पुरस्कार विजेता बच्चों से जमीनी हकीकत के साथ मजबूती से जुड़े रहकर कड़ी मेहनत करने के लिए कहा। “यह पहचान और अधिक अर्जित करने की शुरुआत होनी चाहिए और आपको यह महसूस करना चाहिए कि यह अपने आप में एक अंत नहीं है। ऐसे पुरस्कार आपके साथियों और अन्य बच्चों को सफलता हासिल करने के लिए प्रेरित करेंगे।”

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: