पेपर शुरू होते ही मेरी स्क्रीन ब्लैंक हो गई, सर्वर कनेक्शन टूटा, CUET देने वाले छात्र की आपबीती – cuet exam news student a student share his experience during cuet exam in rohini centre


नई दिल्ली : मैं रोहिणी सेक्टर 22 के पास बेगमपुर में नोबल एग्जाम सेंटर पर सीयूईटी का पेपर देने के लिए पहुंचा था। यहां कम्प्यूटर के सामने अपनी निर्धारित सीट पर बैठा। पेपर शुरू होने के साथ ही मेरी कंप्यूटर स्क्रीन पूरी तरह से ब्लैंक हो गई। मेरे सिस्टम का सर्वर से कॉन्टेक्ट टूट गया। इसके अलावा भी कई तरह की तकनीकी समस्याएं सामने आई। यह कहना है दिल्ली में सीयूईटी दे रहे छात्र स्पर्श सिंघल का। यह कहानी सिर्फ इकलौते स्पर्श की ही नहीं है बल्कि सैकड़ों ऐसे छात्रों हैं जिन्हें इस तरह की समस्या का सामना करना पड़ रहा है।

कहीं पेपर रद्द तो सर्वर डाउन की समस्या
अंडरग्रैजुएट कोर्सेज में एडमिशन के लिए होने वाले कॉमन यूनिवर्सिटी एंट्रेंस टेस्ट (सीयूईटी) स्टूडेंट्स के लिए परेशानी का सबब बन रहा है। इसमें आखिरी समय में कुछ सेंटरों पर परीक्षा रद्द हो जा रही है तो कभी कंप्यूटर स्क्रीन पर क्वेश्चन पेपर अपलोड नहीं हो रहा है। इसके अलावा सर्वर डाउन की समस्या भी सामने आ रही है। देश के बीते गुरुवार को जिन 41 परीक्षा केंद्रों पर पहले शिफ्ट की परीक्षा स्थगित की गई थी, उन सभी परीक्षा केंद्रों पर 12 अगस्त को पेपर होगा। अब 12, 13, 14 अगस्त को भी परीक्षा होगी। परीक्षा के पहले के शेड्यूल के मुताबिक 12 से 14 अगस्त के बीच कोई परीक्षा नहीं होनी थी लेकिन अब इन तीन दिनों को भी शेड्यूल में शामिल किया गया है।

navbharat times

क्या जल्दबाजी में लाया गया CUET? उठ रहे गंभीर सवाल, जानें 4 बड़ी दिक्कतें
हमारे भविष्य से खिलवाड़ कर रहा सिस्टम
स्पर्श का कहना है कि एनटीए ने बड़ी आसानी से कह दिया कि हमारी परीक्षा स्थगित कर दी गई है। स्पर्श के अनुसार आगरा से यह पेपर देने आया था। उसने कहा कि यह बहुत गर्व से कहा जाता है कि बच्चे हमारे राष्ट्र का भविष्य हैं। इसके उलट हमारी शिक्षा प्रणाली हमारे भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रही है। उसने कहा कि एक छात्र होने के नाते मुझे पता है कि विशेष रूप से ऐसी परीक्षाओं के दौरान हम पर कितना मानसिक दबाव होता है। ये परीक्षाएं हमारे करियर को तय करने में प्रमुख भूमिका निभाती हैं।

navbharat timesCUET 2022: दूसरे दिन भी कई केंद्रों पर नहीं हो सकी परीक्षा, छात्र बोले- NTA के बस का कुछ नहीं
कोई तैयारी या प्लानिंग नहीं थी
छात्रों का कहना है कि जिस तरह से सीयूईटी के आयोजन में दिक्कतें आ रही हैं उससे लगता है कि इसके लिए पहले कोई योजना और तैयारी नहीं की गई थी। साथ ही नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ऐसा करने में कितनी बुरी तरह विफल रही है। छात्रों के अनुसार यह देखना बहुत ही निराशाजनक और शर्मनाक है कि उन्हें अच्छे कॉलेजों में प्रवेश पाने और जीवन में अपने लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए क्या करना पड़ता है। छात्रों का कहना है कि यह गंभीरता से उठाया जाए जिससे छात्रों की मदद हो सके।



Source link

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: