डेंगू के खिलाफ अभियान का तीसरा सप्ताह

अभियान में दोस्तों और रिश्तेदारों को करें शामिल : केजरीवाल 

नई दिल्ली, सितम्बर। दिल्ली सरकार के 10 हफ्ते, 10 बजे 10 मिनट, डेंगू के खिलाफ चल रहे अभियान के दूसरे सप्ताह दिल्ली के निवासियों की भारी भागीदारी के बाद 10 सप्ताह का जन जागरूकता अभियान अब अपने तीसरे सप्ताह में प्रवेश कर रहा है।

सीएम अरविंद केजरीवाल ने 6 सितंबर (रविवार) को सुबह 10 बजे अपने आवास पर 10 मिनट तक मच्छरों के पनपने से रोकने के लिए जमा पानी की जांच कर साफ-सफाई करके अभियान की शुरूआत की थी। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा, डेंगू के खिलाफ अभियान के दूसरे रविवार को मैंने फिर से अपने घर का निरीक्षण किया और जमा पानी को बदल दिया। मुझे इसमें केवल 10 मिनट लगे, आपको भी अपने घर की जांच करनी चाहिए।

डेंगू हारेगा और दिल्ली एक बार फिर जीतेगी। डेंगू के लिए कुछ निवारक उपायों में घर, आसपास और फूल दान में जमा पानी को निकालना, कूलर में जमा पानी को बदलना, या जमा पानी में तेल या पेट्रोल की कुछ बूंदें डालना और पानी के टैंकों को हमेशा ढक कर रखना शामिल है। दिल्ली सरकार ने लोगों से अपील की है कि 10 हफ्ते, 10 बजे, 10 मिनट अभियान के तीसरे सप्ताह में लोगों को शामिल करने के लिए फोन उठाएं और अपने 10 दोस्तों या रिश्तेदारों को फोन करें।

उन्हें सलाह दें कि हर रविवार को सुबह 10 बजे, 10 मिनट तक घर की जांच कर जमा पानी को बदलने से डेंगू से छुटकारा मिल जाएगा, जो सबसे अच्छा अभ्यास है। गौरतलब है कि डेंगू का मच्छर जमा पानी में पनपता है, इसलिए लोगों को गमलों, कूलर, एसी, टायर, फूल दान आदि में जमा पानी को हर हफ्ते बदलना चाहिए। जमा पानी में तेल या पेट्रोल की कुछ बूंदें डालें। पानी की टंकी को हमेशा ढक कर रखें। दिल्ली सरकार ने लोगों से अपील की है कि अपने घर की जांच करने के बाद आप अपने 10 दोस्तों को फोन करें। सभी के सहयोग से शहर से डेंगू को खत्म किया जा सकता है।

पिछले साल शुरू किया गया था अभियान

पिछले साल, सभी लोगों, आरडब्ल्यूए. धार्मिक और सांस्कृतिक संगठनों, मंत्रियों व विधायकों, नेताओं और प्रभावशाली लोगों के समान सहयोग और सामूहिक प्रयासों ने शहर में डेंगू के प्रभाव को कम करने में बहुत अहम भूमिका निभाई थी। उस दौरान केवल 2036 केस सामने आए थे और सिर्फ दो लोगों की मौत हुई थी, जबकि 2015 में 15867 केस आए थे और करीब 60 लोगों की मौत हुई थी। डेंगू के खिलाफ अभियान का पहला चरण 2019 में शुरू किया गया था।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: