उत्तर कोरिया कर रहा परमाणु परीक्षण की तैयारी, तो दक्षिण कोरिया को मिला अमेरिका का साथ


हाइलाइट्स

दक्षिण कोरिया और अमेरिका आज से शुरू करेंगे सैन्य अभ्यास
उत्तर कोरिया की मनमानी पर लगाएंगे लगाम
अभ्यास के शुरू करने से पहले ही उत्तर कोरिया ने दो क्रूज मिसाइलें दागी

सियोल. दक्षिण कोरिया और संयुक्त राज्य अमेरिका ने 16 अगस्त को उत्तर-कोरिया की बढ़ती आक्रामकता पर कहा था कि वे सोमवार यानी 22 अगस्त को मिलकर सैन्य अभ्यास की शुरुआत करेंगे, जिसे 1 सितंबर को समाप्त किया जाएगा.

इस सैन्य अभ्यास का नाम उल्ची फ्रीडम शील्ड रखा गया है, जिसे 22 अगस्त से 1 सितंबर तक जारी रखा जाएगा. दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति यून सुक-योल, जिन्होंने मई में पदभार संभाला, संयुक्त अभ्यासों को सामान्य करने और उत्तर कोरिया को उसके तरीके से जवाब देने की कसम खाई. COVID-19 के कारण हाल के वर्षों में अभ्यास को रोक दिया गया था और यून ने रिश्तों को फिर से सुधारने के लिए बातचीत का सहारा लिया लेकिन वो असफल रहें.

दक्षिण कोरिया और संयुक्त राज्य अमेरिका द्वारा अभ्यास के शुरू करने से पहले ही उत्तर कोरिया ने पिछले हफ्ते पश्चिमी तट के शहर ओनचोन से दो क्रूज मिसाइलें दागी. सियोल के अधिकारियों ने कहा कि उत्तर कोरिया ने इस साल तेज गति से मिसाइल परीक्षण किए हैं, और वह किसी भी समय अपना सातवां परमाणु परीक्षण करने के लिए तैयार है.

यून ने कहा है कि अगर प्योंगयांग परमाणु परीक्षण की दिशा में कदम उठाता है तो उनकी सरकार आर्थिक सहायता देने को तैयार रहे, लेकिन उत्तर कोरिया ने खुले तौर पर उनकी आलोचना करते हुए उनके प्रस्ताव को ठुकरा दिया है.

सियोल के रक्षा मंत्रालय ने कहा है कि उत्तर कोरिया के बढ़ते मिसाइल खतरों को देखते हुए हम दक्षिण कोरिया की राजधानी में प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित करेंगे, जहां हजारों सैनिक शामिल होंगे. यह आने वाली मिसाइलों का पता लगाने में सक्षम होंगे.

दक्षिण कोरिया ने अर्थव्यवस्था संभालने के लिए सैमसंग के अरबपति बॉस को किया माफ, मिली काम पर लौटने की अनुमति

उत्तर कोरिया लगातार हथियारों का परीक्षण कर रहा है और वह दक्षिण कोरिया व अमेरिका को धमकी देता रहा है वहीं अमेरिका के रक्षा मंत्रालय ने बताया कि अमेरिका, दक्षिण कोरिया और जापान की नौसेनाओं ने 8 से 14 अगस्त के बीच हवाई के तट पर अभ्यास किया. मंत्रालय ने बताया कि इसका मकसद उत्तर कोरिया की ओर से बढ़ती चुनौतियों के मद्देनजर त्रिपक्षीय सहयोग को बढ़ाना है.

Tags: America, Japan, North Korea, North korea tension, South korea


hindi.news18.com

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: